पिछला

★ भील नृत्य


                                               

राजा चक्रसेन भील

                                               

पंजाबी भाषा के नारे

                                               

भारत के नारे

                                               

भारत के चुनावी नारे

                                               

भारतीय नारीवादी

                                               

भारतीय नाटककार

                                               

तानी भाषाएँ

                                               

पाल-उड़ान

पाल-उड़ान या ग्लाइडिंग ऐसी मनोरंजन क्रिया व खेल है जिसमें बिना किसी मोटर या अन्य कृत्रिम ऊर्जा की खपत से चलने वाले साधन का प्रयोग करे किसी विमान को अपने पंखों का पाल के रूप में इस्तेमाल कर के उसे प्राकृतिक वायु बहाव से भूमि से ऊपर हवा में उड़ते हुए रखा जाता है। ऐसे विमानों को ग्लाइडर या पालविमान कहते हैं। कई प्राणी और वनस्पति-अंश भी इस सिद्धांत के प्रयोग से स्थान-से-स्थान तक वायु में यातायात करते हैं। पाल-उड़ान में कौशल हवा के ऊपर उठते प्रवाहों को खोजने-पहचानने और फिर विमान को उनके ऊपर ले जाकर उठवाने में महारत को समझा जाता है। अनुकूल स्थितियों में निपुण विमानचालक हलके विमानों को पाल-उड़ान ...

                                     
  • भ ल मध य भ रत क एक जनज त क न म ह भ ल जनज त भ रत क सर व ध क व स त त क ष त र म फ ल ह ई जनज त ह भ ल जनज त क ल ग भ ल भ ष ब लत ह भ ल दक ष ण
  • स च ज ञ नसन द क न त य ग र न त य भ रत म र जस थ न क प रम पर क प रस द ध और स न दर ल क न त य ह यह न त य प रम खत भ ल आद व स य द व र क य ज त ह
  • यह न त य भ ल जनज त क प रस द ध न त य ह इस न त य क स वन - भ द म ह म क य ज त ह इस म म दल और थ ल क प रय ग क क रण इस र ई न त य क न म स
  • क चयन भ करत ह गर स य क न त य - व लर, गरब ग र, क द ल र, म र य व ग र गर स य क प रम ख न त य ह य न त य करत समय लय और आन द म ड ब ज त
  • कर ल य अर ज न न रन तर भ ल पर ग ण ड व स ब ण क वर ष करत रह क न त उनक ब ण भ ल क शर र स टकर - टकर कर ट टत रह और भ ल श न त खड ह य म स क र त
  • प रथम भ ल कल क र थ भ रत भवन क तत क ल न न द शक ज स व म न थन न उन ह क गज पर च त र बन न क ल ए कह भ र ब ई न अपन सफर एक समक ल न भ ल कल क र
  • कभ झ ट नह ब लत ह ठ प ड - भ ल जनज त क ल ग ज त ग ध त पहनत ह प त य - सफ द स फ ज स र पर पहनत ह प र य - भ ल ज त म व व ह क अवसर पर द ल हन
  • चल प य ह भ लव ड सद य स भ ल जनज त क न व स स थ न रह ह क वद त क इस शहर क न म यह क स थ न य जनज त भ ल क न म पर पड त ह ज न ह न 16व
  • ह मन ह र स दर मन ज ञ और चमत क र प रत म व र जम न ह ज स ज न क स थ भ ल आद व स ल ग भ प जत ह भगव न मह व र क स धन क ल न भ र ज भरत चक रवर त
  • ढ ल और तलव र ल कर न त य करत ह उसक भ ग म य द ध क स त थ क ह त ह इस न त य क द ख क ई अपर च त दर शक र जस थ न र जप त क न त य स त लन कर सकत
                                     
  • ह ल स प र व ह ट क अवसर पर ह थ म ग ल ल ल ए भ ल य वक म दल क थ प पर स म ह क न त य करत ह न त य करत - करत जब य वक क स य वत क म ह पर ग ल ल लग त
  • र स न त य प र भ रत म प रस द ध ह प रद श क सर वप रम ख ल क न त य गरब तथ ड ड य ह गरब न त य म स त र य स र पर छ द रय क त प त र ल कर न त य करत
  • और भ ल ह स कड वर ष तक यह र जप त क श सन रह और इस पर गहल त तथ स स द य र ज ओ न 1200 वर ष तक र ज क य म व ड श सक क र जत लक भ ल सरद र
  • ज सकत ह इसक स थ पन 13 व शत ब द म र ज ड गर य भ ल न क थ र वल व र स ह न भ ल प रम ख ड गर य क हर य ज नक न म पर इस जगह क न म ड गरप र
  • व प ल म त र म उपलब ध ह इन भ ष ओ म व प ल म त र म ल क ग त, स ग त, न त य न टक, कथ कह न आद उपलब ध ह इन भ ष ओ क सरक र म न यत प र प त नह
  • ज न ह आजकल आस ट र ल इड कहत ह और ज नक स त न क ग ड, भ ल म ड आद ह ब द लख ड म ग ड भ ल क ल, क र त, शबर और क टक क स थ त क प रम ण परवर त
  • ह चल आ रह ह अवध कल क र क ब रह न ट क न च, अह रव न त य क हरव न त य चमरव न त य कजर आद न ट य व ध ओ क आव ष क रक म न ज त ह तथ इसम
  • ह स स क गठन करत ह मध यप रद श क आद व स सम ह म म ख य र प स ग ड, भ ल ब ग क रक भड य य भर य हल ब क ल, मर य म लत और सहर य आत ह
  • पहच न न ह कर स म ह क पहच न ह द न - ह न, श ष त, दल त, ज गल ज त य क ल, भ ल ग ड जनज त स थ ल, न ग, क र त, ह ण, शक, यवन, खस, प क कस आद समस त ल क
  • चरणस पर श न ऊर वर बन द य द ल ल व श वव द य लय क प र फ सर भ रत झ व र भ ल जनज त क म ख क परम पर म म ज द र म यण क अन स ररव न द रन थ क मत क समर थन
                                     
  • व श व प रस द ध अग न न त य ह त ह ज धधकत अ ग र पर क य ज त ह ज एक चमत क र ह जसन थ ज मह र ज क ज द खन ल यक ह अग न न त य क ब च फ र ह फ र ह फत ह - फत ह
  • ह न ष ठ व न सत यव रत एव स व र थबद धसत यव रत शत नन द, क ष ठ - व क र त भ ल एव र ज उल क म खन ष ठ व न सत यव रत थ इन प त र न सत य चरणएव सत यन र यण
  • ह भ रत म स ग त तथ न त य क अपन श ल य भ व कस त ह ई ज बह त ह ल कप र य ह भरतन ट यम, ओड स कथक प रस द ध भ रत य न त य श ल ह ह न द स त न
  • ज नक अपन व श ष ट - स स क त ब ल और व शभ ष रह ह अन य ज त य ग जर, भ ल बल ई, भ ट ढ ल र जप त, ब र ह मण, मह जन, स न र, ल ह र, चम र, न ई, त ल
  • अपन व श ष ट - स स क त ब ल और व शभ ष रह ह अन य ज त य ग जर, ग यर भ ल बल ई, भ ट ढ ल र जप त, ब र ह मण, मह जन, स न र, ल ह र, चम र, न ई, त ल
  • थ द स त क च कड द नभर जम रहत और त श, शतर ज, ग न - बज न व श य - न त य स गर ट, शर ब, ज आ, व यभ च र, न च - तम श स र - सप ट भ जन प र ट आद क

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →