पिछला

ⓘ तात्पर्य निरूपण. शास्त्र तात्पर्य निरूपण या तात्पर्य निरूपण से तात्पर्य किसी ग्रन्थ की समालोचनात्मक व्याख्या से है। परम्परागत रूप से एक्सीजीसिस शब्द का उपयोग बा ..

तात्पर्य निरूपण
                                     

ⓘ तात्पर्य निरूपण

शास्त्र तात्पर्य निरूपण या तात्पर्य निरूपण से तात्पर्य किसी ग्रन्थ की समालोचनात्मक व्याख्या से है। परम्परागत रूप से एक्सीजीसिस शब्द का उपयोग बाइबल के तात्पर्यनिरूपण से रहा है किन्तु आधुनिक काल में इसमें अन्य ग्रन्थों का तात्पर्यनिरूपण भी सम्मिलित किया जाता है।

                                     
  • धर मप रम ण क न र पण क य गय ह और व ध अर थव द म त र, स म त श ष ट च र, न मध य, स द ग ध र थ न र ण यक व क यश ष और स मर थ य क न र पण क य गय ह
  • तथ व य स व त त क पर ध तथ व य स क अन प त क अनन त श र ण य द व र न र पण ज य नय न ज य क सन न कटन तथ अनन त श र ण य ग रन थ क द व त य भ ग गण त
  • क श र तब ध ख य त प र प त ग रन थ ह सह पर इसम बह त थ ड छन द क न र पण ह अत यह अध क महत त व नह प र प त कर सक ग ग द स क छन द मञ जर छन द
  • र त व यवस थ ओ और धर म द श - धर म पद श क स क ष प त, स द हह न और न र द ष र प म न र पण व व चन करन ल क क स स क त और स त रव मय क व द क स त र व व ध व द गस त र
  • क सभ अ ग क स रचन त मक न र पण ह त ह प रमस त ष क वल क ट क भ ग समस त स रचन त मक न र पण क ल ए उत तरद ई ह त ह यह न र पण प रत प र श व क Contraleteral
  • स म न य अर थ म ख य त स त त पर य प रस द ध प रश स प रक श, ज ञ न आद समझ ज त ह पर द र शन क न इस सर वथ भ न न अर थ म ग रहण क य ह उन ह न
  • शब द क अर थ स सम बन ध त व ध ह भ ष क द यर म शब द और व क य क त त पर य क अध ययन अर थ - व ज ञ न कहल त ह उन न सव सद क उत तर र ध स पहल अर थ - व ज ञ न
  • व व चन, व भ न न द वत ओ क मह म एव एकर पत और उनक स धन - उप सन क स न दर न र पण क य गय ह अन क भक त परक आख य न एव स त त र क भ इसम अद भ त स ग रह
  • न र पण ह 7 दशम ध य य म अर थल प, प रत य म न य और प रत ष ध क भ द स त न प रक र क ब ध क न र पण ह 8 एक दश ध य य म त त र और आव य क न र पण
  • अर थ तर क, स द ध त य म म स ह अत: एग ज य ल ज य म ल यम म स क त त पर य उस व ज ञ न स ह ज सक अ तर गत म ल य स वर प, प रक र और उसक त त व क सत त
  • व य करण ह यह अत स क ष प त ह और क वल 99 स त र म प र क त क व ध य क न र पण कर द य गय ह इस स तर क व श षत बतल न व ल स त र ध य न द न य ग य ह
                                     
  • क न र पण क य गय ह चत र थ आल क र क न मक अध करण म अल क र क न र पण ह प चम प र य ग क न मक अध करण म कव परम पर ओ तथ प रय ग क न र पण ह
  • ह क य क सम ज स व उन सभ स म ज क, आर थ क एव मन व ज ञ न क क रक क न र पण कर उसक पर प र क ष य म क र य न व त ह त ह ज व यक त एव उसक पर य वरण - पर व र
  • कर म, ब धन क क रण म न गय ह क त कर मय ग म कर म क उस स वर प क न र पण क य गय ह ज ब धन क क रण नह ह त य ग क अर थ ह समत व क प र प त
  • परम ण क व न य स arrangement क अध ययन क य ज त ह पहल क र स टल क स त त पर य उस व ज ञ न स थ ज सम क र स टल क अध ययन क य ज त ह एक स - क रण क
  • ज न इस मत क प ष ट करत ह म म स दर शन क प रध न उद द श य धर म क न र पण करन ह ज म न क अन स र धर म क लक षण ह च तन प र रण अर थ त क र य
  • लज ज आद क भ वर णन प र ण तल ल नत क स थ क य ह स य गक ल न च ष ट ओ क न र पण म उन ह न ज स सफलत प र प त क ह व स ह उन ह न व य ग न भत य क
  • धर मस त र क ह उपन षद क ग और ग त क उसक द ग ध कह गय ह इसक त त पर य यह ह क उपन षद क ज अध य त म व द य थ उसक ग त सर व श म स व क र
  • स स र क अन त यत म य ओर मन क प रबलत हठय ग य क दश मन ष य ज त क न र पण श व हठय ग य तथ व चक ब रह मज ञ न य क दश अवत रव द, म य फ स और उसक
  • श द ध व ध क स द ध न त क न र वचन क स द ध न त म न ह इसक त त पर य यह ह क यह न र पण Description नह ह बल क नम न य आदर श ह ज सक क र य म ल यपरक
  • व द न त पद क त त पर य ह - व द द म व ध प र वक अध ययन, मनन तथ उप सन आद क अन त म ज तत त व ज न ज य उस तत त व क व श ष र प स यह न र पण क य गय
  • ह सत क र यव द क द भ द ह - पर ण मव द तथ व वर तव द पर ण मव द स त त पर य ह क क रण व स तव क र प म क र य म पर वर त त ह ज त ह ज स त ल त ल
                                     
  • ज त ह और जलव य म पर वर तन एक ल ब समय क द र न ह त ह त पम न स त त पर य व य म न ह त ऊष म क म त र स ह और इस क क रण म सम ठ ड य गर म महस स
  • र जव श ऋष व श , व द क श ख ओ स ग तश स त र और श वभक त क व स त त न र पण ह इसम भ प र ण क पञ चलक षण म लत ह भ गवतप र ण - यह सर व ध क प रचल त
  • क न त दर शन म ल य क क ष त र म तर - तम भ व क न र पण एव व य ख य क प रयत न करत ह यह न र पण और व य ख य य ग न म ल य च तन स सम बद ध रहत ह
  • व य प त ह त ह एक ओर त मन ष य उन क न न क वशवर त ह ज नक उद घ टन य न र पण भ त क व ज ञ न, रस यनश स त र, प र ण श स त र, मन व ज ञ न आद तथ य न व ष प ज ट व
  • पर भ ष पर व व द ह क ब क सभ ल ग क व श व स स हटकर ह त ह क त त पर य न कलत ह क यद क ई व यक त क स ऐस ध रण पर व श व स करत ह ज स पर
  • उक त अन श सन म जकड ह ई वस त क फ न म न स ज ञ द इस अ तर क त त पर य यह द ख न थ क ब द ध क र प तर क पश च त सत य ज ञ य वस त प र त भ स क
  • स थ द व द त मक न य य क न र पण क य गय ह समयस र, प च स त क और न यम स र इन सभ म ज न स द ध त, आच रश स त र, तथ स थ द व द त मक न य य क न र पण क य गय ह
  • MMI क प रय ग अभ भ अक सर क य ज त ह ह ल क क छ क द व ह क MMI क त त पर य अब क छ और ह एक और स क ष प त न म HCI ह ल क न स म न यत इसक अध क प रय ग

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →