पिछला

ⓘ भारत का पुरापाषाण युग. पुरापाषाण काल प्रागैतिहासिक युग का वह समय है जब मानव ने पत्थर के औजार बनाना सबसे पहले आरम्भ किया। यह काल आधुनिक काल से २५-२० लाख साल पूर् ..


                                     

ⓘ भारत का पुरापाषाण युग

पुरापाषाण काल प्रागैतिहासिक युग का वह समय है जब मानव ने पत्थर के औजार बनाना सबसे पहले आरम्भ किया। यह काल आधुनिक काल से २५-२० लाख साल पूर्व से लेकर १२,००० साल पूर्व तक माना जाता है। इस दौरान मानव इतिहास का ९९% विकास हुआ। इस काल के बाद मध्यपाषाण युग का प्रारंभ हुआ जब मानव ने खेती करना शुरु किया था।

भारत में पुरापाषाण काल के अवशेष तमिल नाडु के कुरनूल, कर्नाटक के हुँस्न्गी, ओडिशा के कुलिआना, राजस्थान के डीडवानाके श्रृंगी तालाब के निकट और मध्य प्रदेश के भीमबेटका में मिलते हैं। इन अवशेषो की संख्या मध्यपाषाण काल के प्राप्त अवशेषो से बहुत कम है।

                                     
  • प र प ष ण क ल अ ग र ज Palaeolithic प र गएत ह स क य ग क वह समय ह जब म नव न पत थर क औज र बन न सबस पहल आरम भ क य यह क ल आध न क क ल स - ल ख
  • भ रत क व भ न न भ ग स प र व प र प ष ण क ल स सम बन ध त व वरण प र प त ह त ह इस समय म नव म लत क व र टज इट पत थर क उपय ग करत थ इस क ल क उपकरण क
  • त न चरण म न ज त ह प र प ष ण क ल, मध यप ष ण क ल एव नवप ष ण क ल ज म नव इत ह स क आरम भ ल ख स ल प र व स ल कर क स य य ग तक फ ल ह आ ह
  • आर भ क य न म न प र प ष ण य ग 25, 00, 000 ईस व प र व - 100, 000 ई. प मध य प र प ष ण य ग 1, 00, 000 ई. प - 40, 000 ई. प उच च प र प ष ण य ग 40, 000 ई.प
  • प र ग त ह स म ल ह य ग गत हड प प स स क त कब र स स क त क उत तरग म क ल कहल त ह वर तम न म उत तर भ रत क म ख य ल ह य ग क प र त त व क स स क त य
  • भ रत क इत ह स कई हज र वर ष प र न म न ज त ह म हरगढ प र त त व क द ष ट स महत वप र ण स थ न ह जह नवप ष ण य ग ईस - प र व स ईस - प र व
  • क र न यल अध ययन क क श यन क ल ए र प त मक और आन व श क स ब ध क स झ व द त ह य स ब ध प र प ष ण य ग स ह अध ययन न न ष कर ष न क ल क ऐन क य र श यन
  • भ रत क व भ जन म उ टब टन य जन क आध र पर न र म त भ रत य स वत त रत अध न यम क आध र पर क य गय इस अध न यम म क ह गय क 15 अगस त 1947 क भ रत
  • प र प ष ण क ल, मध यप ष ण क ल एव नवप ष ण क ल ज म नव इत ह स क आरम भ ल ख स ल प र व स ल कर क स य य ग तक फ ल ह आ ह भ मब टक भ मब ठक भ रत क
  • र ज य क प रम ख नगर थ भ ड घ ट, ग व र घ ट और जबलप र स प र प त ज व श म स स क त म लत ह क यह प र ग त ह स क क ल क प र प ष ण य ग क मन ष य क न व स
  • तब र बर ट क ल इव ज एक ब र ट श अध क र थ 1744 म भ रत आए और ज सफ फ र स व द प ल इक ष क एक भ रत म फ र स स स म र ज य बन न क उम म द क धर श य
  • प रय ग करन स बचत ह अध कतर प रय ग ह न व ल पहल पर भ ष म य र प य मध य य ग क तरह इस क ल क छठ शत ब द स ल कर स लहव शत ब द तक म न ज त ह इस
                                     
  • स ध घ ट सभ यत Indus Valley Civilization क पश च त भ रत म ज स नव न सभ यत क व क स ह आ उस ह आर य Aryan अथव व द क सभ यत Vedic Civilization
  • ग रन थ क रचन क ल ई प प चव शत ब द म न ज त ह रस यनश स त र क प र र भ व द क य ग स म न गय ह प र च न ग र थ म रस यनश स त र क रस क अर थ
  • आश रय म बन क छ च त र म ल ग क शहद इकठ ठ करत ह ए द ख य गय ह प र प ष ण क ल भ मब टक प ष ण आश रय Nicolas Peterson 1998 Demographic transition
  • म व स त ल और ओड र तक क सफर तय करत थ मध य य ग और आध न क य ग क प र रम भ क क ल म ज स समय प ल ड - ल थ आन य य र प क प रम ख ख द य उत प दक ह आ
  • 414 ईस व तक भ रत क य त र क उसन भ रत क वर णन एक स ख और सम द ध द श क र प म क य चन द रग प त द व त य क श सनक ल क स वर ण य ग भ कह गय ह
  • ख द य - स ग र हक क र प म ज वन य पन करत ह ग इस ब त क समर थन म नव व ज ञ न स ह त ह और यह ब त प र प ष ण प ल य ल थ क क ल न म नव क स थ भ ल ग ह त ह
  • मर क ट इल खतर न त म द र त सह प रम ख य र प य शक त य क थ ड महत व क थ ड न श भ रत म व चर स, कह सह, आम त र पर और ड म न करन म सक षम नह प ज क त
  • क पन र ज क अर थ ह ब र ट श ईस ट इण ड य कम पन द व र भ रत पर श सन यह 1773 म श र क य ह जब क पन न क लक त म एक र जध न क स थ पन क ह अपन
  • भ रत म च त रकल क इत ह स बह त प र न रह ह प ष ण क ल म ह म नव न ग फ च त रण करन श र कर द य थ ह श ग ब द और भ मब टक क ष त र म क दर ओ

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →