पिछला

ⓘ कोल विद्रोह. छोटा नागपुर के लोगो ने यह विद्रोह किया था I यह विद्रोह तब किया गया जब कोलो की भूमि उनसे छीनकर मुस्लिमो तथा सिक्खों को दे दी गई १८३१ ई. के लगभग यह व ..


                                     

ⓘ कोल विद्रोह

छोटा नागपुर के लोगो ने यह विद्रोह किया था I यह विद्रोह तब किया गया जब कोलो की भूमि उनसे छीनकर मुस्लिमो तथा सिक्खों को दे दी गई

१८३१ ई. के लगभग यह विद्रोह लगभग पलामू, हजारीबाग, सिंहभूम आदि क्षेत्रो में व्यापक रूप से फैल गया

विद्रोह का नेतृत्व-----नारायण राव, गोमध कुंवर ने किया था

कोल विद्रोह का दमन विलकिंसन ने किया था 1828 का क्षत्रिय कोली विद्रोह सन् 1828 मे महाराष्ट्र के क्षत्रिय कोली Koli जाती ने गोवींद राव खरे नाम के क्षत्रिय कोली सरदार के नेतृत्व में विद्रोह किया और क्षत्रिय कोली जाति के लोग डाकु बन गए। सरदार गोवींद राव खरे पेशवा का किलेदार Fort Commander था और रतनगढ़ क़िला क्षत्रिय कोली के रक्षन मे था। जब अंग्रेजों ने पेशवा को मात दे दी उसके बाद क्षत्रिय कोलीयो ने विद्रोह कर दिया। क्षत्रिय कोली पहाड़ीयों में चले गए और अंग्रेजों को मारने और काटने लगे । क्षत्रिय कोलीयों के आतंक को देखते हुए अंग्रेजी अधिकारियों ने कैप्टन मैकिंटस Captain Macintosh को अंग्रेजी सेना के साथ क्षत्रिय कोली विद्रोह को दफ़न करने के लिए भेजा लेकिन कैप्टन मैकिंटस को बुरी तरह हार मिली और उसकी काफ़ी सेना भी मारी गई। लड़ाई के बाद अंग्रेजों को महसूस हुआ कि क्षत्रिय कोलीयों को दबाना आसान नहीं है इसलिए अंग्रेजों ने अपनी बुद्धि का प्रयोग किया और गांव-गांव जाकर क्षत्रिय कोली विद्रोहीयों के बारे में जानकारी लेने लगे लेकिन अंग्रेजों को किसी ने भी कुछ नहीं बताया लेकिन कुलकर्णी ब्राह्मणों ने अंग्रेजों को सारी जानकारी दे दी कि क्षत्रिय कोली कहां खाते हैं, कहां जाते हैं, कहां रहते हैं, कहां पिते हैं वैसे कुलकर्णी ब्राह्मणों के पास पुख्ता जानकारी नहीं थी लेकिन जो भी जानकारी थी सारी अंग्रेजों को दे दी और उसी के आधापर अंग्रेजों ने अकोला की पहाड़ियों में दुबारा से और ज्यादा सेना भेजी और क्षत्रिय कोलीयों पर हमला कर दिया। इस हमले में क्षत्रिय कोली सरदार गोवींद राव खरे मारा गया और क्षत्रिय कोलीयों का मनोबल टुट गया । अंग्रेजों ने बागी क्षत्रिय कोलीयों को बंदुक की गोलियों से भून डाला और बचे कुचों को गिरफ्ताकर लिया। इस प्रकार 1828 का क्षत्रिय कोली विद्रोह दफन कर दिया गया। Revolt Of Kolis Against British Rule In Maharashtra 1828 lekin

                                     
  • क सबस बड स थ न ह स थ ल व द र ह क ल व द र ह ग ड व द र ह 1857 क व द र ह म आद व स ख स व द र ह म नगढ क व द र ह ब रस म ड : स हस क न म ब रस
  • क ल य क ग व द ए गए स थ ह प ट ल और द शम ख क उप ध स भ नव ज गय 1857 म प ठ र य सत क क ल ज त क ल ग न अ ग र ज क ख ल फ भय कर व द र ह
  • जनज त न अ ग र ज क ख ल फ व द र ह छ ड द य यह व द र ह र च स हभ म हज र ब ग, म नभ म म प र रम भ ह आ क ल व द र ह म म ण ड ह उर व, खरव र
  • गय और उसक ब द ख ल व द र ह भ ह आ इस ह जलस न व द र ह य म म बई व द र ह ब म ब म य ट न क न म स ज न ज त ह यह व द र ह फ रवर सन क
  • उस ल टन क प रय स क य गय थ इस चटग व शस त र ग र छ प य चटग व व द र ह क न म स ज न ज त ह सभ छ प म र, क र त क र सम ह क सदस य थ ज न ह न
  • व र द ध व द र ह क ब ग ल फ क द य थ इस पह ड य व द र ह य पह ड य जगड कहत ह पह ड य भ ष म जगड शब द क श ब द क अर थ ह - व द र ह यह अ ग र ज
  • आश र त क व द र ह नर न द र क हल द व र रच त व य ग य स ग रह ह
  • न ल व द र ह क स न द व र क य गय एक आन द लन थ ज ब ग ल क क स न द व र सन म क य गय थ क न त इस व द र ह क जड आध शत ब द प र न थ
  • क भ रत य व द र ह ज स प रथम भ रत य स वत त रत स ग र म, ग र जर व द र ह और भ रत य व द र ह क न म स भ ज न ज त ह इत ह स क प स तक कहत ह क
  • म क स न व द र ह 1830 - 31 व श ख पट टनम क क स न व द र ह 1830 - 33 म ड व द र ह 1834 क ल व द र ह 1831 - 32 स बलप र क ग ड व द र ह 1833 स रत
  • च वह क ल य न प शव क ख ल प व द र ह कर द य और प र दर एव स हगढ क ल पर कब ज कर ल य थ क ल य क आभ प र दर पस द नह आय त आभ न क ल य क
                                     
  • जनपद क ख र, अतर ल गभ न इगल स और क ल तहस ल म व भ ज त क य ह आ ह अल गढ प र च न न म स क इल य क ल भ कहल त ह अल गढ शहर, उत तर भ रत
  • क कह न ह चटग व व द र ह चटग व व द र ह चटग व - व द र ह क र म चक कह न Banglapedia article on Surya Sen स र य स न चटग व व द र ह क न यक - म स टर द
  • भ म ज व द र ह क मह न यक कह ज त ह 1767 ईस व स 1833 ईस व तक, 60 स ज य द वर ष म भ म ज म ड ओ द व र अ ग र ज क व र द ध क ए गए व द र ह क भ म ज
  • 22 स ल क उम र म ब र ट श ईस ट इ ड य क पन क स न म श म ल ह गए व द र ह क प र रम भ एक ब द क क वजह स ह आ स प ह य क प टऱ न एनफ ल ड ब द क
  • स न न यक थ सन क मह न व द र ह म उनक भ म क सबस महत त वप र ण, प र रण द यक और ब ज ड थ सन सत त वन क व द र ह क श र आत मई क म रठ स ह ई
  • 2011 - 2012 स र य व द र ह स रय म व धर क स र आत जनवर क ह ए उसक ब द त नस ह क ख ल फ ल ग क ह ज म म र च क स रय क शह र द र म ह आ
  • उपमह द व प स जड स उख ड फ कन थ इस आन द लन क श र आत 1857 म ह ए स प ह व द र ह क म न ज त ह स व ध नत क ल ए हज र ल ग न अपन प र ण क बल द
  • अ ग र ज स सम बन ध त थ सब नष ट कर च क थ र त म ह व द र ह स न क द ल ल क च कर गए और व द र ह म रठ क द ह त म फ ल गय इस क र न त क पश च त ब र ट श
  • समय तक न द र क ल श ह नह बन थ बल क फ रस स म र ज य क स न पत थ म व श ह बन न द र श ह इसक ब द व द ग स त न क व द र ह क क चलन गय
  • अ ग र ज Thakor Mansa Singhji Khant ग जर त क ख ट क ल थ मनस न ग जर त म म ग ल क ख ल प व द र ह कर द य थ ज न गढ र य सत क नव ब ग जर त सल तनत म
  • म र गय कट ट ब म न क स र पर इन म रख गय ज सस क रण कई प ल गर स ख ल व द र ह क ल ए प र र त ह गय प चच क र च क ल म कई लड ई क श र खल क ब द
                                     
  • य क श श असफल रह गई उन ह न 1857 क भ रत य व द र ह क द र न ब र ट श ईस ट इ ड य क पन क ख ल फ व द र ह क य अ तत उन ह न न प ल म शरण म ल जह
  • न क प रथम भ रत य स वत त रत स ग र म क एक स प ह व द र ह य अध कतम भ रत य व द र ह कह थ द सर ओर भ रत य व श ल षक न भ इस तब तक एक य जन बद ध
  • उज ज न म व द र ह ह गय अश क क सम र ट ब न द स र न न र व सन स ब ल व द र ह क दब न क ल ए भ ज द य ह ल क उसक स न पत य न व द र ह क दब द य
  • ब वज द चलत रह 1857 म व द र ह क च ग र क म ऊ म भ फ ल हल द व न क म ऊ क ष त र क प रव श द व र थ वह स उठ व द र ह क स वर क उसक प र र भ क
  • प र थम कत भ रत म श न त एकत और अच छ श सन व यवस थ क यम करन रह 1857 क व द र ह क एक म ख य न त र झ स क र न लक ष म ब ई, उन ह न इसस पहल ल र ड डलह ज
  • र ज ड न स क अवश ष ब र ट श श सन क स पष ट तस व र प श करत ह स प ह व द र ह क समय यह र ज ड न स ईस ट इ ड य कम पन क एज न ट क भवन थ यह ऐत ह स क
  • क ष त र, ज म बई स लगभग क म उत तरपश च म ह ख नद श क भ ल न प रम ख व द र ह क ए व शत ब द म यह भ ग मर ठ श सन म थ तथ यह अन क महत वप र ण
  • स वत त रत स ग र म म न न स ह ब न क नप र म अ ग र ज क व र द ध व द र ह य क न त त व क य ध ड प त न न स हब न सन 1824 म व ण ग र म न व स

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →