पिछला

ⓘ माननीय एक सम्मान सूचक शब्द है, जिसे सम्मान स्वरुप संबोधन के लिए उपयोग में लाया जाता है। इसका उपयोग अंतरराष्ट्रीय कूटनीति तथा महत्वपूर्ण राजनैतिक पदों को संबोधित ..

                                     

ⓘ माननीय

माननीय एक सम्मान सूचक शब्द है, जिसे सम्मान स्वरुप संबोधन के लिए उपयोग में लाया जाता है। इसका उपयोग अंतरराष्ट्रीय कूटनीति तथा महत्वपूर्ण राजनैतिक पदों को संबोधित करने हेतु, लिखित एवं मौखिक संबोधन में किया जाता है।

                                     

1. राजनीति में

भारत में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, उच्च न्यायपालिका के न्यायाधीशों, अर्थात् सर्वोच्च न्यायालय और उच्च न्यायालय दोनों के न्यायाधीशों को "माननीय न्यायमूर्ति" कहा जाता है। ऊपरी और निचले दोनों सदनों के सांसदों को माननीय सदस्य के रूप में संदर्भित किया जाता है। कार्यपालिका के सदस्य जो विधानमंडल के सदस्य भी हैं, जैसे कि प्रधानमंत्री को भी माननीय सदस्य/मंत्री के रूप में संबोधित किया जाता है। राज्यों में विधानसभा और परिषदों के सदस्यों को भी माननीय के रूप में संबोधित किया जाता है, साथ ही अध्यक्ष और संघ और लोक सेवा आयोगों के सदस्यों को पद पर रहते हुए "माननीय" कहकर संबोधित किया जाता है।

                                     

2. अंतरराष्ट्रीय कूटनीति

अंतर्राष्ट्रीय राजनयिक संबंधों में, विदेशी राज्यों के प्रतिनिधियों को अक्सर "माननीय" के रूप में संबोधित किया जाता है। मिशन के उप प्रमुखों, उपराजदूतों, कॉन्सल-जनरल और अन्य वाणिज्यदूतों को हमेशा इसी लहजे से संबोधित किया जाता है। सभी कांसुलर पदों के प्रमुख, चाहे वे मानद हों या स्थायी पदाधिकारी हों, उन्हें यह उपाधि दी जाती है। बहरहाल, राजदूतों और उच्चायुक्तों को यह शैली कभी नहीं दी जाती, उन्हें "महामहिम" के रूप में संबोधित किया जाता है। साथ ही विदेशी राज्यों के राष्ट्रप्रमुखों को भी "महामहिम" कहकर संबोधित किया जाता है।

                                     

3. अन्य भाषाओँ में

अंतरराष्ट्रीय उपयोग में अंग्रेज़ी में माननीय के जगह "Honourable" ऑनरेबल, फ्रेंच में "Lhonorable" ल्उनोराब्ल्, अरबी में अल-मोहतरम المحترم का उपयोग किया जाता है।

                                     
  • 2019 - 07 - 09. म नन य म ख यम त र य क स च छत त सगढ व ध नसभ म ल स 2019 - 07 - 08 क प र ल ख त. अभ गमन त थ 2019 - 07 - 08. छत त सगढ व ध नसभ क म नन य प र व
  • सरक र क प व वर ष स पहल भ भ ग क य ज सकत ह उत तर खण ड व ध नसभ म नन य श र न य य ध श ज एस. ख हर उत तर खण ड उच च न य य लय आध क र क ज लस थल
  • क स च भ रत क र ज यप ल Governors of Tamil Nadu since 1946 अ ग र ज म नन य न य य ध श श र प चन द र र ड ड आन ध र प रद श उच च न य य लय ज लस थल पर
  • स अच छ ल ग न अपन द न क व यत त क य ह ज सम सरद र भगत स ह और म नन य ट डर स ह ज एक थ य ग व पहलव न क ल ए भ ज न ज त रह ह यह क
  • श र इकब ल वह द र क ष त र क प रथम स न तक ह ए ज नक स प त र म ख त र अहमद म नन य उच च न य य लय इल हब द म न य य ध श रह ह ग व स म प रद य क सद भ व क
  • सह यत म र गदर शन एव व श षज ञत प रद न करत ह इस म त र लय क म त र म नन य अम त श ह ह भ रत सरक र क र य आब टन न यम, 1961 क अ तर गत ग ह म त र लय
  • 31 द सम बर 2018 तक क द व र व श ल र प स फ ल ह आ ह इसक अल व अपन म नन य ग र हक क स व ध क ल ए 24 घ ट क र यरत हम र 14000 एट एम 30 द सम बर
  • क प ल सकर म कमल श ब शन ई क न म पहल नम बर पर ह 2015 म ईम नद र ह त म नन य प रध न म त र नर द र म द ज न र ष ट रपत भवन म इस सम म न त क य क ट
  • फ क ट र स थ त ह तथ यह पर एक ग ल फ क ट र म स थ त ह र घ गढ म म नन य द ग व जय स ह म ख यम त र ज क क ल भ यह पर ह इसक क भर ज तहस ल धन य
  • एक ज ल ह ज ल क म ख य लय ट क ह र जस थ न सरक र क उपम ख यम त र म नन य श र सच नप यलट ज यह क व ध यक ह ज न ह न 2018 क व ध नसभ च न व म
                                     
  • स ख य - 330 स च न व ज त वह क इर सम द य स ह म नन य स व म प रस द म र य उत तर प रद श सरक र क क ब न ट म त र ह म नन य श र म र य श रम व भ ग, स व य जन, शहर
  • प र च न एव प रस द ध ग व ह यह क ल ग क फ म हनत एव सरल सहज स व भ क ह म नन य अरव द क म र य दव ज न श र ष ठ बन न क ल ए क फ म हनत क ह द न प र ग ग
  • कण ठ क म ल क व यतत व क व व चन करन व ल स स क त - स ह त य - श स त र क एक म नन य ग र थ ह ज सक रचन ध र श वर मह र ज भ जर ज न क मह र ज भ जर ज क समय ईसव
  • स तक उन ह भ रत य प रश सन क क ल ज, ह दर ब द, ह दर ब द स ट ट क म नन य प रध न क र प म न य क त क य गय स व न व त त क पश च त उन ह न
  • ब ट इस प रक र ब गज द अम न क उपय ग करत ह यह दक ष ण एश य म एक म नन य और र क क मह ल ओ क ल ए द ए गए श र षक क र प म इस त म ल क य गय ह
  • क रण यह त र क क व ज ञ न अक दम और अम र क क कल और व ज ञ न अक दम क म नन य सदस य बन यह अपन एमड क क श क ष त र क क इस त ब ल व श वव द य लय म
  • प र ट म श म ल ह ए - क व ध नसभ च न व म उन ह र ष ट रव द क म नन य श र न व स प ट ल न पर ज त क य भ रत क र ष ट र य प र टल पर स सद क
  • ह प रत ष ठ न क क लपत म नन य ग ग प रस द उप र त ह तथ सच व प र ध य पक ड क टर jagat prasad upadhyay प र क ष त ह म नन य क लपत ज क सच व लय प रम ख
  • क छव क और आकर ष त बन त ह वर तम न म कन न ज नगर प ल क अध यक ष म नन य श ल न द र अग न ह त र ज व द म तरम ह कन न ज ख शब स महक ग जग
  • क ष त र म स प र व तट र लव वह पहल क ष त र ह ज सक उद घ टन भ रत क म नन य प रध नम त र श र एच.एच. द वग ड न द न क 08.08.1996 क क य थ इस नए
                                     
  • च न व म उत तर खण ड क गढ व ल क ष त र स ल कसभ क ल ए न र व च त ह ए म नन य अटल ब ह र व जप य ज क न त त व व ल सरक र म व सड क, पर वहन एव र जम र ग
  • उप क ष त रहन क ब द 15 अगस त 2019क इस ज ल बन न क घ षण म ख यम त र म नन य श र भ प श बघ ल ज द व र क गई इसक न म क प छ इत ह स छ प ह इस क ष त र
  • स स क त व श वव द य लय म व य ख य त और फ र न द शक पद पर चयन ह गय इस म नन य श क षण क पद पर य त न दशक तक रह वर ष 2014 - 15 क ल ए यश भ रत सम म न प न
  • उद य ग म त र म नन य ड स ज ड ल क र ब न यर व त त म त र म नन य र बर ट ल व ल न ब र डश स ट क ट स स च र और क र य म त र म नन य डबल य ए. र ज
  • और प र फ सर अगरच अन य आम स म ज क ख त ब न म नल ख त ह श र म स टर, म नन य स श र श र मत और म स न म द ख त ब आम त र पर पर स म ज क ह त ह ल क न
  • न आपक आठ व स र कह ज स ग त क स त स र स ऊ च ह भ रत क कई म नन य न त ज स मह त म ग ध और प ड त न हर भ आपक स ग त क प रश सक थ एक
  • न र व चन क ष त र न र व चन स ख य - 340 स च न व ज त उत तर प रद श व ध न सभ म नन य क म श वर उप ध य य क सबस कर ब म न ज न व ल म स भव न छ पर क छ ट
  • स तर 19660 म टर तक नह भर ज सकत म नन य उच चतम न य य लय न द न क 11 ज न, 2007 क द ए अपन आद श स म नन य उच च न य य लय क जबलप र मप र ख ण डप ठ
  • अक दम क अध यक ष एव उप ध यक ष क पद पद न ह अध यक ष म नन य उच च श क ष म त र एव उप ध यक ष म नन य स क ल श क ष म त र ह त ह अक दम क स प र ण क र य
  • हर य ण सरक र म 1987 स 1990 तक र जस व म त र रह तथ 1996 म प रध नम त र म नन य श र अटल ब ह र व जप ई सरक र म क ष म त र भ रह च क ह श र स रजभ न

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →