पिछला

ⓘ संयुक्त राज्य अमेरिका के वीजा. 2008 में संयुक्त राज्य अमेरिका वीजा संयुक्त राज्य अमेरिका जानेवाले 6.6 मिलियन विदेशी नागरिकों और 470 हजार आप्रवासियों को जारी किए ..


संयुक्त राज्य अमेरिका के वीजा
                                     

ⓘ संयुक्त राज्य अमेरिका के वीजा

2008 में संयुक्त राज्य अमेरिका वीजा संयुक्त राज्य अमेरिका जानेवाले 6.6 मिलियन विदेशी नागरिकों और 470 हजार आप्रवासियों को जारी किए गए।

संयुक्त राज्य अमेरिका जाने को इच्छुक किसी विदेशी नागरिक को वीजा लेना तब जरूरी है अगर वह निम्नलिखित श्रेणी में नहीं आता या आती हो

  • कनाडा या बरमूडा का नागरिक हो, या
  • क़ानूनी तौपर वीजा-मुक्त यात्रा जैसे आपराधिक रिकॉर्ड के अयोग्य हो।
  • वीजा छूट कार्यक्रम के तहत आनेवाले छत्तीस देशों में से किसीका नागरिक हो,

मैक्सिकन नागरिकों के लिए अलग आवश्यकताएं होती हैं।

लगभग 185 विभिन्न प्रकार के वीजा होते हैं, अमेरिका में मुख्यत: दो श्रेणियों के वीजा होते हैं:

  • आप्रवासी वीजा - उन लोगों के लिए है जो बिना किसी सीमित अवधि के स्थायी तौपर संयुक्त राज्य अमेरिका में रहना चाहते हैं।
  • गैर-आप्रवासी वीजा - पर्यटन, व्यापार, कामकाज या अध्ययन जैसी अस्थायी यात्राओं के लिए।

आप्रवास के लिए, या तो आप्रवासी वीजा या दोहरा प्रयोजन वीजा होना चाहिए, जो स्थायी निवासी दर्जे ग्रीन कार्ड के लिए समवर्ती आवेदन को संगत बनाने के लिए हो है या स्थायी निवास के इरादे के साथ आवेदन किया गया हो।

यू.एस. में प्रवेश के लिए एक रोजगार वीजा को ज्यादातर मामले में तीन चरणों की प्रक्रिया के रूप देखा जा सकता है। पहला, किसी व्यक्ति विशेष को किसी विशेष श्रेणी के वीजा के लिए अनुरोध करते हुए नियोक्ता को यू.एस. नागरिक और आप्रवासी सेवा में आवेदन करना पड़ता है। अगर नियोक्ता के आवेदन को मंजूरी दे दी जाती है, हालांकि यह व्यक्ति को वीजा के लिए आवेदन करने के लिए अधिकृत करता है, दरअसल, आवेदन को मंजूरी दिया जाना वीज़ा नहीं है। तब वह व्यक्ति वीज़ा के लिए आवेदन देता है और आमतौपर उसके अपने ही देश में अमेरिकी दूतावास या वाणिज्य दूतावास में साक्षात्कार लिया जाता है। अगर दूतावास या वाणिज्य दूतावास वीजा दे देता है, तभी उस व्यक्ति को यू.एस. यात्रा की अनुमति मिलती है। सीमा पार करने वाले स्थान, हवाई अड्डे, या यू.एस. में प्रवेश के अन्य स्थान में व्यक्ति को यू.एस. सीमा शुल्क और सीमा सुरक्षा एजेंट से यू.एस. में प्रवेश की अनुमति लेनी पड़ती है। अगर मंजूरी मिल जाती है, तभी व्यक्ति अमेरिका में प्रवेश कर सकता है।

एक बहुत आम ग़लतफ़हमी के विपरीत, यू.एस. वीजा किसी विदेशी के संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रवेश के लिए अधिकृत नहीं होता है और न ही यह किसी खास स्थिति में किसी विदेशी के यू.एस. में रहने के लिए अधिकृत होता है। यू.एस. वीजा किसी विदेशी को संयुक्त राज्य अमेरिका में यात्रा करने और संयुक्त राज्य के निर्दिष्ट प्रवेश-पत्तन में प्रवेश चाहने वालों के लिए के लिए केवल एक प्रारंभिक अनुमति है। किसी विशेष स्थिति में और एक विशेष समयावधि के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रवेश करने की अंतिम अनुमति प्रवेश पत्तन में यू.एस. आप्रवासी अधिकारी द्वारा दी जाती है। एक गैर-आप्रवासी वीजा दर्जे के तहत अमेरिका में प्रवेश करने वाले विदेशियों के विवरण आप्रवासी अधिकारी द्वारा विदेशी के फॉर्म I-94 वीजा मुक्त कार्यक्रम के देशों के नागरिकों द्वारा कम अवधि के लिए अमेरिका में प्रवेश के लिए फॉर्म I-94 डब्ल्यू दर्ज किये जाते हैं, जो एक विशेष गैर-आप्रवासी वीजा दर्जे के तहत और एक खास अवधि के लिए विदेशी को अमेरिका में रहने के लिए आधिकारिक दस्तावेज के रूप में अधिकृत करता है।

                                     

1. योग्यता प्रक्रिया

यात्री वीजा के आवेदकों को आप्रवासी और राष्ट्रीयता अधिनियम के प्रावधानों के तहत यह दिखाना होता है कि वे अर्हता प्राप्त हैं। कानून में प्रकल्पना है कि हरेक यात्री वीजा आवेदक निश्चित रोजगार से संबंधित आवेदकों को छोड़कर, उन्हें इसकी छूट है एक इच्छुक आप्रवासी होता है। इसलिए, इस धारणा को दूर करने लिए यात्री वीजा के लिए आवेदनकर्ताओं को निम्न चीजों का प्रदर्शन करना जरुरी है:

  • किसी विशिष्ट सीमित अवधि तक उनके रहने की योजना है और
  • अमेरिका के बाहर उनका आवास है और साथ में उनके अन्य रिश्तेदार भी हैं, यात्रा खत्म होने के बाद जिससे उनकी वापसी सुनिश्चित होगी।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका में उनकी यात्रा का उद्देश्य व्यापार, आनंद, या चिकित्सा उपचार के लिए है;

सभी पर्यटक वीजा आवेदकों को साक्षात्कार शुल्क के रूप में 140 अमेरिकी डॉलर 4 जून 2010 से पहले जो 131 डॉलर था भुगतान करना होगा। साक्षात्कार संयुक्त राज्य वाणिज्य दूतावास में दूतावास के अधिकारी द्वारा लिया जाता है, जो संयुक्त राज्य अमेरिका में यात्रा के लिए वीजा प्राप्त करने के लिए आवेदक के अर्हता पर फैसला लेता है इसके अतिरिक्त संयुक्त राज्य अमेरिका का राज्य विभाग सुरक्षा सलाहकार की राय भी ले सकता है, जिसमें कई हफ्ते लग जाते हैं। यदि आवेदक को अस्वीकाकर दिया है, तो 140 डॉलर का शुल्क वापस नहीं किया जाता है। योग्यता पर फैसला लेने में जो चीजें मायने रखती हैं उनमें वित्तीय स्वतंत्रता, पर्याप्त रोजगार, परिसंपत्ति सामग्री शामिल हैं, साथ में आवेदक के देश में उसके खिलाफ कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए।

आप्रवासी वीजा प्रक्रिया कहीं अधिक सख्त और महंगी है। प्रक्रिया शुल्क अदा कर देने के बाद ज्यादातर आप्रवासी वीजा आवेदक संयुक्त राज्य अमेरिका में स्थायी निवासी बननेके लिए 1.000 से अधिक अमेरिकी डॉलर का भुगतान करते हैं, लेकिन संयुक्त राज्य अमेरिका में वास्तविक आप्रवास के लिए वर्षों तक इंतजार करना पड़ता है।

                                     

2.1. वीजा की श्रेणियां ए-1, ए-2 और ए-3

ए वीजा "संयुक्त राज्य अमेरिका की यात्रा करने वाले विदेशी सरकार के प्रतिनिधियों को उस सरकार के लिए आधिकारिक गतिविधियों में में शामिल होने के लिए" जारी किया जाता है। विदेशी सरकार के राजदूतों, मंत्रियों, कूटनीतिज्ञों और सरकारी अधिकारियों या कर्मचारियों को आधिकारिक कार्य की यात्रा के लिए वीजा प्रदान किया जाता है। विदेशी सरकारी अधिकारियों के अपने परिवार के सदस्यों को भी ए वीजा दी जाती है। ऐसे लोगों में "मुख्य आवेदक के पति या पत्नी और किसी भी उम्र के अविवाहित पुत्और पुत्री भी शामिल हैं, जो किसी अन्य घर के सदस्य नहीं हैं और मुख्य विदेशी के घर में ही नियमित रूप से रहते हैं" और जिसमें "मुख्य आवेदक या पति या पत्नी के ऐसे घनिष्ठ रिश्तेदार भी शामिल हैं जो रक्त, विवाह या गोद लेने के रिश्ते में आते हैं, जो किसी अन्य घर के सदस्य नहीं हैं और जो नियमित रूप से मुख्य आवेदक के साथ उनके घर में रहते हैं; और जिन्हें भेजे जाने वाली सरकार द्वारा आश्रित माना गया हो."

                                     

2.2. वीजा की श्रेणियां बी-1 और बी-2

बहु-उद्देशीय बी-1/बी-2 वीजा सबसे आम गैर-आप्रवासी वीजा है, जिसे "व्यापार या आनंद के लिए अस्थायी आगंतुकों के लिए वीजा" के रूप में भी जाना जाता है। अगर उनकी यात्रा का उद्देश्य पर्याप्त रूप से निश्चित हो तो कौंसुलर अधिकारी संयुक्त बी-1/बी-2 वीजा के लायक नहीं समझे जाने से वीजा आवेदकों को कभी-कभी बी-1 व्यापार के लिए अस्थायी आगंतुक या बी-2 आनंद के लिए अस्थायी आगंतुक वीजा मिला करते हैं।

                                     

2.3. वीजा की श्रेणियां जे-1

1961 के फुलब्राइट-हेस क़ानून के प्रावधानों के तहत विनिमय आगंतुक कार्यक्रम चलाया जाता है, जिसे आधिकारिक तौपर 1961 के शैक्षिक व सांस्कृतिक विनिमय क़ानून के रूप में जाना जाता है Pub.L. 87-256, 75 Stat. 527। इस अधिनियम का उद्देश्य है शैक्षिक और सांस्कृतिक आदान- प्रदान के माध्यम से संयुक्त राज्य अमेरिका और अन्य देशों के लोगों के बीच आपसी समझ को बढ़ावा देना. विनिमय आगंतुक कार्यक्रम को शैक्षिक व सांस्कृतिक मामलों के ब्यूरो के विनिमय समन्वय व पदवी के दफ्तर द्वारा प्रशासित किया जाता है।

विनिमय आगंतुक कार्यक्रम की जिम्मेदारियों के लिए संबंधित विभाग सार्वजनिक और निजी संस्थाओं को विनिमय के प्रायोजक बनने के लिए नियुक्त करता है। प्रायोजक संस्थाएं विनिमय आगंतुक कार्यक्रम की एक श्रेणी के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए विनिमय आगंतुकों के रूप में विदेशियों के अमेरिका में प्रवेश को सुगम बनाती हैं, श्रेणियां निम्नलिखित हैं:

  • सरकारी आगंतुक
  • शिविर परामर्शदाता
  • छात्र, कॉलेज/विश्वविद्यालय
  • गर्मियों में कामकाज/यात्रा
  • औ पेयर और एडू केयर Au Pair and Edu Care
  • अंतर्राष्ट्रीय आगंतुक गृह विभाग के उपयोग के लिए आरक्षित
  • चिकित्सक
  • लघु अवधि के शोधकर्ता इस श्रेणी में भागीदारी की अधिकतम अवधि छह महीने है, कार्यक्रम के विस्तार की अनुमति नहीं है
  • शिक्षक
  • प्रशिक्षु इस श्रेणी में भागीदारी की अधिकतम अवधि 18 महीने है, कृषि कार्यक्रम 12 महीने तक सीमित और आतिथ्य प्रशिक्षण कार्यक्रम को छोड़कर)।
  • विशेषज्ञ इस श्रेणी में भागीदारी की अधिकतम अवधि एक वर्ष है
  • प्राध्यापक और शोधकर्ता -
  • छात्र, माध्यमिक
                                     

2.4. वीजा की श्रेणियां एच-1बी

एच- 1बी वर्गीकरण व्यावसायिक-स्तर के कार्यों के लिए है, जिसमें किसी विशेष शैक्षिक क्षेत्र में न्यूनतम स्नातक की डिग्री की आवश्यकता है। इसके अतिरिक्त, कर्मचारी के पास डिग्री या शिक्षा और अनुभव के माध्यम से इस तरह की डिग्री के बराबर की योग्यता जरुरी है। युएससीआईएस USCIS में एच-1बी याचिका दायर करने से पहले नियोक्ता को श्रम विभाग में "लेबर कंडीशन एप्लीकेशन" एलसीए LCA) जमा करके यह बताना जरुरी होता है कि उस भौगोलिक क्षेत्र में जहां उक्त काम है, इस पद के लिए आवश्यक वेतन दिए जा रहे हैं। उस पद के लिए आवश्यक वेतन "वास्तविक वेतन" से अधिक है, जो कि इस पद के अन्य कर्मचारियों को दिया जाता है या फिर जो "प्रचलित वेतन" जैसा है, जो कि नियोक्ता के अपने वेतन सर्वेक्षण सहित किसी भी करीबी स्रोत का उपयोग करके निर्धारित किया गया हो।

जब नियोक्ता एलसीए जमा करता है, तब कानून विशेष रूप से अनुमोदन प्रक्रिया को सीमित करता है कि एलसीए LCA सिर्फ तभी खारिज की जाय जब वे "अधूरे या स्पष्ट रूप से गलत" हों 8 यु. एस. सी. 1182 एन)। नियोक्ता प्रचलित वेतन के लिए कुछ भी दावा कर सकते हैं और एलसीए LCA का अनुमोदित किया जाना निश्चित है। एलसीए LCA के 1% वित्तीय वर्ष 2005 में खारिज कर दिगए थे। जिन मामलों में प्रचलित वेतन के स्रोत वैध नहीं हैं जैसे कि एक स्थानीय के बजाय एक राष्ट्रीय सर्वेक्षण या किसी पेशा और स्थान के बजाय प्रवेश स्तर के वेतन के सर्वेक्षण या जहां प्रचलित वेतन गलत बताये गए हैं जैसे कि मनगढ़ंत या 25वां प्रतिशतक वेतन, वहां एलसीए की नियमित मंजूरी लेनी होगी।

लोकप्रिय मिथक के विपरीत, इसकी कोई आवश्यकता नहीं है कि एच-1बी कर्मचारियों को काम पर रखने से पहले नियोक्ताओं को यह साबित करना होता है कि उन्हें अमेरिकी श्रमिक नहीं मिल पा रहे हैं। "एच-1बी निर्भर नियोक्ताओं" के मामले में आमतौपर कर्मचारियों के 15% से अधिक एच-1बी वीजा वाले नियोक्ताओं के लिए, कानूइन नियोक्ताओं से "सद्भावना स्वरूप" अमेरिकी श्रमिक रखने की अपेक्षा करता है 8 यु.एस.सी. 1182एन1जी। हालांकि, इसे लागू करने के लिए कोई प्रवर्तन तंत्र नहीं है।

एक सामान्य नियम के रूप में, जो व्यक्ति एक गैर-आप्रवासी स्थिति में है, वह अपनी स्थिति या नियोक्ता में बदलाव नहीं ला सकता है, जब तक कि वह यूएससीआइएस में ऐसे बदलाव के लिए आवेदन नहीं करता है और जब तक उसे मंजूरी नहीं मिल जाती है। हालांकि, "एच -1 बी पोर्टेबिलिटी" नामक एक प्रावधान ने अमेरिका में कुछ लोगों को एच-1बी के दर्जे से नए नियोक्ता के लिए काम करने की अनुमति दी है, जब नए नियोक्ता ने एच-1बी याचिका यूएससीआइएस में दाखिल की।

एच-1बी वीजा प्राप्त करने के लिए, नियोक्ता को यह दिखाना जरुरी होता है कि वह समान शिक्षा और अनुभव वाले अन्य अमेरिकी नागरिकों को दिए जा रहे प्रचलित स्थानीय वेतन या उससे अधिक का भुगतान करेगा। नियोक्ता को यह साबित करने की जरुरत नहीं है कि कोई अमेरिकी श्रमिक उस काम को करने के लिए उपलब्ध नहीं है। हालांकि, कुछ अर्थशास्त्री एच-1बी विस्तार को अमेरिकी मध्यम वर्ग पर एक हमले के रूप में देखते हैं जिससे धनी वर्ग को लाभ मिला है और यह पारंपरिक अमेरिकी जीवन स्तर को बनाये रखना असंभव बना देता है, या जापान जैसे देशों की तरह अधिक कड़ी आप्रवासी नीतियों के जरिये उत्पादकता में तेजी से विकास के लिए प्रोत्साहन में इससे कमी आती है।

एच-1बी वीजा पर श्रमिकों को काम पर रखने वाली कंपनियां अक्सर ही कहा करती हैं कि कंपनी द्वारा किये जाने वाले जरुरी विशिष्ट काम के लिए पर्याप्त अमेरिकी श्रमिक नहीं हैं। कई अर्थशास्त्रियों का तर्क है कि इन विदेशी कर्मचारियों की भर्ती से अमेरिका को और अधिक लाभ होता है और अन्यथा ये नियोक्ता कंपनियां अपना पूरा काम विदेश ले जाएंगी. यह दावा किया गया कि यह अमेरिकी अर्थव्यवस्था के लिए समग्र रूप से और भी बुरा साबित हो सकता है, क्योंकि पहली स्थिति में अमेरिका में रहने वाले विदेशी कर्मचारी अमेरिका में ही खर्च किया करेंगे, जबकि बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा विदेश में काम भेज देने से अमेरिकी उपभोक्ताओं को उतनी बचत नहीं भी हो सकती है।

                                     

2.5. वीजा की श्रेणियां एल-1 अंतर-कंपनी स्थानांतरिती

एल -1 वर्गीकरण अंतर्राष्ट्रीय स्थानांतरिती के लिए है, जिन्होंने पिछले तीन वर्षों में कम से कम एक साल तक विदेश स्थित एक संबंधित संस्थान के लिए काम किया है और उन्हें किसी कार्यकारी या प्रबंधकीय एल-1ए या किसी विशेषज्ञ काम एल-1बी में अमेरिका में नियुक्त किया जाना है।

अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अधिकारी के रूप में योग्यता हासिल करने के लिए कर्मचारी को निम्नलिखित आवश्यकताओं को पूरा करना होगा:

  • संस्थान या एक प्रमुख घटक या कार्य के प्रबंधन को मार्गदर्शन;
  • संस्थान, घटक या कार्य के लक्ष्यों और नीतियों की स्थापना;
  • विवेकाधीन निर्णय लेने में व्यापक विस्तार का अभ्यास; और
  • संस्थान के उच्च स्तर के अधिकारी, निदेशक बोर्ड या शेयरधारकों से केवल सामान्य पर्यवेक्षण या मार्गदर्शन प्राप्त करना।

अंतर्राष्ट्रीय प्रबंधक के रूप में योग्यता हासिल करने के लिए कर्मचारी को निम्नलिखित आवश्यकताओं को पूरा करना होगा:

  • अन्य पर्यवेक्षी, पेशेवरों या प्रबंधकीय कर्मचारियों के काम का पर्यवेक्षण और नियंत्रण, या संस्थान के अंदर के आवश्यक कार्य का प्रबंधन, या संस्थान के विभाग या उप-विभाग का प्रबंधन;
  • संस्थान या विभाग, उप-विभाग, कार्य या घटक को प्रबंधित करना;
  • जिस गतिविधि या कार्य के लिए कर्मचारी अधिकृत है उसके प्रतिदिन के कामों पर अपने विवेक का इस्तेमाल करना।
  • नियुक्ति और निष्कासन का अधिकार, या नियुक्ति/निष्कासन की सिफारिश का अधिकाऔर अन्य निजी कार्रवाई के अधिकार जैसे कि प्रोन्नति और छुट्टी देने के अधिकार, अथवा अगर कोई कर्मचारी कर्मचारी सीधे तौपर पर्यवेक्षित नहीं, संस्थागत पदानुक्रम प्रबंधकीय के अंदर या कार्य के सिलसिले में एक वरिष्ठ की तरह कार्य करना; और

एक विशेषज्ञ स्थानांतरिती के रूप में योग्यता प्राप्त करने के लिए कर्मचारी को निम्नलिखित आवश्यकताओं को पूरा करना जरुरी है:

  • कंपनी की प्रक्रियाओं और कार्यप्रणाली का उन्नत स्तर का ज्ञान.
  • कंपनी के उत्पाद और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इसके उपयोग का जानकार होना; या

किसी कर्मचारी के ज्ञान को विशेज्ञताप्राप्त ज्ञान कहा जाता है यदि वो ज्ञान आम तौपर किसी ख़ास उद्योग में पाए जाने वाले ज्ञान से अलग हो। विशेषज्ञता प्राप्त ज्ञान रखने वाले कर्मचारी के संभावित विशेषताओं में बाज़ार में नियोक्ता की प्रतिस्पर्धात्मकता के लिए मूल्यवान ज्ञान भी शामिल है; इसके अलावा इसमें शामिल हैं; विशेष ज्ञान के परिणामस्वरूप विदेश में कार्य करने की स्थिति का ज्ञान आम तौपर उद्योग में नहीं पाया जाता है; महत्वपूर्ण कार्यों के साथ विदेश में काम करने की क्षमता जिससे नियोक्ता की उत्पादकता, प्रतिस्पर्धात्मकता, छवि या वित्तीय स्थिति में वृद्धि हुई हो; ऐसा ज्ञान रखना जो सामान्य रूप से उसी नियोक्ता के साथ पहले के अनुभव से प्राप्त हुआ हो; या ऐसे उत्पाद या प्रक्रिया का ज्ञान रखना जिसे आसानी से स्थानांतरित नहीं किया जा सकता या किसी अन्य व्यक्ति को नहीं सिखाया जा सकता.

                                     

2.6. वीजा की श्रेणियां टीएन दर्जे के बारे में सामान्य जानकारी

1 जनवरी 1994 की प्रभावी तिथि से, नाफ्टा कुछ ख़ास कनाडा और मेक्सिको के श्रमिकों को अमेरिका की यात्रा करने और वहां रोजगार की सुविधा प्रदान करता है। नाफ्टा ने योग्य कनाडाई तथा मेक्सिकन पेशेवर श्रमिकों के लिए टीएन वर्गीकरण बनाया और अन्य वर्गीकरणों के तहत अमेरिका में कनाडाईयों के प्रवेश के लिए प्रभावित शर्तें रखीं. टीएन दर्जे के लिए एक नाफ्टा पेशेवर की सेवाओं की जरुरत होती है, जिसके पेशे को परिशिष्ट 1603 में दर्ज किया गया हो। डी.1 देखें संलग्न परिशिष्ट 1603.डी.1; टीएन TN कर्मचारी के पास जरुरी परिचय पत्और योग्य नागरिकता के प्रमाण होने चाहिए। टीएन दर्जे के तहत अमेरिकी नियोक्ता विदेशी नियोक्ताओं सहित की जरुरी सेवा के लिए असीमित की अवधि के लिए अमेरिका में अनेक बार प्रवेश की अनुमति मिल जाती है; हालांकि यह अवधि अधिकतम तीन वर्ष की है, लेकिन इसे अनिश्चितकाल तक बढाया जा सकता है, जब तक कि नौकरी का अस्थायी मकसद बना रहता है।

टीएन कार्य परमिट पर कोई वार्षिक सीमा नहीं है एच-1बी वीजा के विपरीत।

                                     

2.7. वीजा की श्रेणियां अमेरिका में स्व-रोजगार की अनुमति नहीं

टीएन: परिशिष्ट 1603. डी.1 के सदस्यजो अमेरिका के बाहर स्व-रोजगार के पेशे में हैं, वे अमेरिका के बाहर से जैसे कि सेवाओं के लिए ठेका अमेरिका स्थित कंपनियों के साथ व्यापार संबंध रख सकते हैं और अमेरिका में इन पहले से योजनाबद्ध गतिविधियों के लिए टीएन दर्जा प्राप्त कर सकता है। हालांकि, टी एन वर्गीकरण के तहत अमेरिका में किसी विदेशी को स्व-रोजगार की अनुमति नहीं है और न ही जिसमें वह ऐसे किसी निगम या अन्य तरह के संस्थान में अपनी सेवा प्रदान कर सकता/सकती है जिसमें वह नियंत्रक मालिक या शेयरधारक हो। नाफ्टा की अन्य प्रवेश श्रेणी कनाडा और मैक्सिको के नागरिक नाफ्टा के तहत बी -1 व्यवसाय आगंतुक, ई -1 समझौता व्यापारी, ई समझौता निवेशक 2, या एल -1 अंतर-कंपनी स्थानांतरिती के रूप में भी प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं। इस बुलेटिन में उन विकल्पों के बारे में नहीं बताया गया है।

                                     

2.8. वीजा की श्रेणियां टीएन प्रक्रमण और प्रवेश प्रक्रिया

टीएन-1 वर्गीकरण के लिए कनाडाई सीधे एक अमेरिकी क्लास ए पोर्ट-ऑफ़-इंट्री, अंतर्राष्ट्रीय यातायात को संभालने वाले अमेरिकी हवाई अड्डे, या कनाडा स्थित किसी अमेरिकी प्री-फ्लाईट/प्री-क्लियरेंस स्टेशन में आवेदन कर सकते हैं। निम्नलिखित दस्तावेज शामिल करना जरुरी है:

  • आवश्यक परिशिष्ट 1603.डी विश्वसनीयताका सबूत; और
  • कनाडा की नागरिकता का प्रमाण,
  • 50 डॉलर नत्थीकरण शुल्क इसके अलावा एक 6 डॉलर I-94 कार्ड शुल्क, अगर भूमि से यात्रा की जानी हो तो,
  • अमेरिकी नियोक्ता का पत्र या कनाडा स्थित भेजने वाला नियोक्ता, जिसमें काम की प्रकृति और पेशेगत रोजगार की अवधि और अमेरिका में वेतन/मजदूरी का वर्णन किया गया हो।

कनाडा के नागरिकों को वीजा की छूट हैं और उन्हें अमेरिका में यात्रा करने के लिए कौंसुलर वीजा की जरूरत नहीं पड़ती या अमेरिका में प्रवेश के लिए आवेदन करना पड़ता है। टीएन-1 आवेदकों को भूमि स्थित प्रवेश द्वारों के लिए मामूली I-94 शुल्क जरुर देना पड़ता है।

मेक्सिको के टीएन-2 गैर-आप्रवासी को उन I-129 का अनुमोदित लाभार्थी होना जरुरी है; जो I-129 याचिकाएं अमेरिकी नियोक्ताओं द्वारा दायर की गयी हों और जिन्हें मातृभूमि सुरक्षा विभाग के अमेरिकी नागरिकता और आव्रजन सेवाओं के नेब्रास्का सेवा केंद्र द्वारा मंजूर किया गया हो। निम्नलिखित दस्तावेज शामिल करना जरुरी है:

  • नत्थीकरण शुल्क 130 डॉलर,
  • प्रवेश के उद्देश्य का प्रमाण और अनुमति प्राप्त एनएएफटीए नाफ्टा व्यावसायिक गतिविधि में भाग लेने का प्रमाण.
  • अमेरिकी श्रम विभाग द्वारा प्रमाणित फॉर्म ईटीए-90353 श्रम स्थिति अनुप्रमाणन एलसीए LCA),
  • मैक्सिको की नागरिकता का प्रमाण,

टीएं-2 वर्गीकरण के तहत अमेरिका में प्रवेश के लिए आवेदन करने वाले मेक्सिकोवासियों को अमेरिकी वाणिज्य दूतावास से वीजा प्राप्त करना होगा। कृपया ध्यान दें कि बतायी गयी उक्त आवश्यकताएं 31 दिसम्बर 2003 से समाप्त हो जाएंगी. 1 जनवरी 2004 और उसके बाद से, मेक्सिको के टीएन आवेदकों को टीएन वीजा पाने के लिए मेक्सिको में डिपार्टमेंट ऑफ़ स्टेट कौसुलेट के पास आवश्यक कागजात जमा कराने होंगे। टी एन वीजा प्राप्त करने के लिए जिन प्रक्रियाओं का पालन जरुरी है, उनके बारे में अधिक जानकारी के लिए विदेश विभाग की वेबसाईट पर जाएं.

                                     

2.9. वीजा की श्रेणियां परिवार के सदस्य

कनाडा और मेक्सिको के पेशेवरों के पति/पत्नी और 21 साल से कम उम्र के बेटे-बेटियों को टीडी दर्जा प्राप्त होता है। उन्हें टीएन सिद्धांत नियम के आवेदन में शामिल किया जा सकता है अलग से कोई नत्थीकरण शुल्क नहीं है और उसी अवधि के लिए उन्हें मंजूरी मिल सकती है। इस वर्गीकरण के तहत टीडी गैर-आप्रवासी अमेरिका में अध्ययन कर सकते हैं, लेकिन रोजगार के लिए अधिकृत नहीं हैं। कनाडा के आश्रितों की पात्रता पर निर्णय अमेरिका के किसी प्रवेश स्थल पर हो सकता है। हालांकि नेब्रास्का सेवा केंद्र में दायर टीएन याचिकाओं में मेक्सिको के पारिवारिक सदस्य स्वतः शामिल हो जाते हैं, लेकिन उन्हें अमेरिकी वाणिज्य दूतावास में अलग से टीडी वीजा के लिए आवेदन करना जरुरी होता है। टिप्पणी: आश्रितों का कनाडा या मेक्सिको का नागरिक होना आवश्यक नहीं हैं।

                                     

2.10. वीजा की श्रेणियां नजदीकी रिश्तेदारों के लिए के-वीजा

हालांकि ये वीजा उन लोगों को दिए जाते हैं जो अमेरिका में स्थायी रूप से प्रवास करने का इरादा रखते हैं, फिर भी उन्हें तकनीकी तौपर गैर-आप्रवासी वीजा अस्थायी के रूप में वर्गीकृत किया जाता है। अमेरिकी नागरिक अपनी/अपने मंगेतरों, पति-पत्नी और उन मंगेतरों और पति-पत्नी के अविवाहित निर्भर बच्चों के लिए के-अस्थायी वीजा के लिए यूएससीआइएस USCIS को याचिका दे सकते हैं। मंगेतर के मामले के-1 वीजा याचिका देने वाले नागरिकों की शादी करने के लिए 90 दिनों तक रहने की अनुमति देता है और उसके बाद कानूनी रूप से स्थायी निवासी बनने के लिए अलग से आवेदन करना पड़ता है। अगर उस समय तक शादी नहीं होती है तो मगेतर को बाहर निकालने की कार्रवाई की जाती है। अंतर्राष्ट्रीय शादी ब्रोकर नियमन अधिनियम इम्ब्रा IMBRA) का पालन करते हुए इम्ब्रा एक प्रायोजक द्वारा के-1 मंगेतर वीजा के लिए याचिकाओं की संख्या को सीमित करता है या सीमा की छूट प्राप्त किये बिना ही मंजूरी देता है। इसके अतिरिक्त, मंगेतर के बच्चे को उसके माता या पिता के/की मंगेतर की याचिका से व्युत्पन्न के-2 वीजा मिल सकता है। बच्चा आपके/आपकी मंगेतर के साथ यात्रा कर सकता है या माता या पिता को के-1 वीजा जारी किये जाने की तारीख के एक साल के अंदर बाद में भी यात्रा कर सकता है। अगर बच्चा साथ में यात्रा करता है या आपके मंगेतर के आने के बाद के-1 वीजा के जारी किये जाने के एक साल के अंदर यात्रा करता है तो अलग से याचिका जरूरी नहीं है। अगर वीजा जारी करने की तारीख से एक साल से अधिक समय लग जाता है तो अलग से वीजा याचिका की आवश्यकता पड़ती है। जीवन साथी के मामले में, के-3 वीजा दो साल के लिए वैध है और इसे तब तक अनिश्चितकाल के लिए बढ़ाया जा सकता है, जब तक कि शादी का आधार बना रहता है। के-3 और के-4 दर्जे के लोग काम करने के अधिकारी होते हैं और वे अमेरिका से जा सकते हैं और फिर से आ सकते हैं जब तक कि उनका वीजा वैध है।

                                     

2.11. वीजा की श्रेणियां समलैंगिक साथी

संयुक्त राज्य अमेरिका के नागरिकों के विदेशी समलैंगिक संगियों को फिलहाल यूएससीआइएस USCIS द्वारा मान्यता नहीं दी गयी है और इसीलिए उन्हें के-1 मंगेतर वीजा या स्थायी निवासी के दर्जा के लिए प्रायोजित नहीं किया जा सकता. अगर कोई अन्य प्रकार का वीजा प्राप्त नहीं किया जा सका हो तो इसी कारण अनेक समलैंगिक परिवारों को अमेरिका से बाहर रहने को बाध्य होना पड़ा है। अनेक विदेशी संगी अवैध विदेशी के रूप में अमेरिका में रह रहे हैं। एकक अमेरिकी परिवार अधिनियम अगर पारित हो गया तो "स्थायी संगी" नामक एक नयी पारिवारिक श्रेणी बनेगी, जिससे यूएससीआइएस द्वारा विदेशी संगियों को मान्यता मिल जाएगी. समलैंगिक विवाह और आम तरह की शादी के बीच की संवेदनशीलता से बचने के लिए "स्थायी संगी" शब्दावली बनाई गयी है।

हालांकि, अमेरिकी विदेश विभाग के अनुसार गैर-अमेरिकी नागरिकों के समलैंगिक संगियों को अमेरिका का अस्थायी वीजा मिल सकता है, जो कि अपने समलैंगिक साथियों के साथ अमेरिका में रहने की इजाजत चाहने वाले गैर-नागरिकों से अमेरिकी नागरिकों को थोड़ा अधिक अधिकार प्रदान करता है।

                                     

2.12. वीजा की श्रेणियां वी वीजा और कानूनन स्थायी निवासियों के जीवनसाथी के लिए लाइफ LIFE क़ानून ग्रीन कार्ड धारक

आम तौपर ग्रीन कार्ड या एलपीआर प्रक्रिया के नाम से जाना जाने वाला दर्जे का समायोजन अंतिम चरण है, यानी कि इससे कानूनी रूप से स्थायी निवासी एलपीआर का दर्जा प्राप्त होता है। यह जरूरी है कि जिस विदेशी व्यक्ति पर सवाल उठ खड़ा हुआ है वह दर्जे के समायोजन के लिए एक I-485 आवेदन जमा करे, जो कि अक्सर ही विदेशी श्रमिक या विदेशी रिश्तेदार के लिए I-130 याचिका के लिए पहले से ही विद्यमान और मंजूर या स्वीकार्य योग्य I-140 आप्रवासी याचिका पर आधारित हुआ करता है। 2002 में हुए व्यापक आप्रवास सुधार के कारण I-485 और I-130 या I-140 याचिकाएं एक साथ जमा की जा सकती हैं, इससे आप्रवासी वीजा संख्या तत्काल उपलब्ध होती है। एक लाइसेंस प्राप्त सिविल सर्जन द्वारा विदेशी की I-693 चिकित्सा जांच की रिपोर्ट और एक जी 325ए जीवनी संबंधी सूचना को आवेदन के साथ देना जरुरी है। ये दस्तावेज विदेशी व्यक्ति पिछले पांच वर्षों के रोजगार तथा आवास के बारे में संपूर्ण चिकित्सकीय तथा रोगक्षमता विज्ञान संबंधी इतिहास की जानकारी प्रदान करेंगे। उसके बाद यूएससीआइएस एफबीआई द्वारा पृष्ठभूमि की जांच के लिए विदेशी नागरिक की हस्तरेखाओं की छाप लेने, तस्वीर उतारने और हस्ताक्षर दर्ज करने के लिए एक तारीख तय करता है और उसे यूएससीआइएस डेटाबेस में डाल दिया जाता है। अनेक व्यापक मामलों में आम तौपर यूएससीआइएस USCIS अधिकारी द्वारा असावधान स्थिति में साक्षात्कार लेने की जरुरत होती है।

दर्जे के समायोजन के लंबित आवेदन के मामले में संबंधित आवेदक काम और यात्रा करने का अधिकारी होता है, जिसके लिए रोजगार प्राधिकरण दस्तावेज़ ईएडी EAD) कार्ड और एडवांस पेरोल दस्तावेज की जरुरत होती है, जिनका नवीकरण हर साल कराना जरुरी होता है। अगर आवेदक बॉयोमीट्रिक्स अपॉइंटमेंट या साक्षात्कार में शामिल नहीं होता है तो उसके आवेदन पर विचार किया जाना छोड़ दिया जा सकता है। निम्नलिखित कारणों से भी आवेदन को ख़ारिज किया जा सकता है:

  • आधारभूत आप्रवासी याचिका का खारिज होना या वापस ले लिया जाना
  • आपराधिक मामले में पहले हुई सजा, अनुपयुक्त राजनीतिक दलों या संगठनों से संबद्धता जैसे कि कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य, खराब चरित्र या कमजोर बनाने वाली स्वास्थ्य समस्याओं तथा अन्य आधारों पर आवेदक को अवांछनीय व्यक्ति मान लिया जा सकता है।
  • आवेदक को संयुक्त राज्य अमेरिका में अवैध रूप से प्रवेश करने या रहते हुए पाया जाना हालांकि ऐसे व्यक्ति को माफ किया जा सकता है जिसने मूलतः वैध वीजा के साथ प्रवेश किया हो और उसका कोई नजदीकी रिश्तेदार अमेरिकी नागरिक-याचिकाकर्ता हो

अगर एक समायोजन आवेदन को मंजूरी दे दी जाती है तो आवेदक को दस साल के लिए एक स्थायी निवास कार्ड ग्रीन कार्ड जारी किया जाता है। पांच साल के बाद एलपीआर धारक नागरिकता के लिए आवेदन दे सकते हैं। जिन एलपीआर LPR धारकों को शादी के जरिये नागरिकता प्राप्त हो चुकी है वे तीन साल के बाद ही नागरिकता के लिए आवेदन दे सकते हैं, बशर्ते कि वह उसी जीवन साथी के साथ रह रहे हों जिसने एलपीआर LPR के लिए याचिका दायर की थी।

कानूनी स्थायी निवासियों एलपीआर LPR) के अधिकारों पर कुछ प्रतिबंध हैं। अगर वे विदेश में जन्मे किसी साथी से शादी करते/करती हैं, तो ग्रीन कार्ड धारक को अपने जीवनसाथी या परिवार से वर्षों तक अलग रहना पड़ सकता है, जब तक कि आप्रवासन अनुमति प्राप्त करने के लिए जरुरी कागज़-पत्र पूरी प्रणाली से होकर नहीं गुजरते हैं। अपने जीवनसाथी और परिवार के साथ तुरंत पुनर्मिलन के लिए अपने मूल घर वापस लौटने का विकल्प प्रायः आसान नहीं होता।

प्रारंभ में 1994 में कांग्रेस द्वारा आईएनए 245i क़ानून बनाया गया था, जिसे नवंबर 1997 में समाप्त हो जाना था। दर्जे के समायोजन के अयोग्य आवेदक आईएनए INA 245i के तहत आवेदन करते और 1.000 डॉलर का जुर्माना भरकर अमेरिका में ग्रीन कार्ड प्राप्त किया करते.

1997 के अंतिम चरण में काफी विवाद के बीच 14 जनवरी 1998 से पहले जमा किये गए आप्रवासी वीजा याचिका या श्रमिक प्रमाणन आवेदन के लिए इस क़ानून की अवधि बढ़ा दी गयी, दर्जे के समायोजन के लिए ही समय सीमा में विस्तार किया गया।

आईएनए 245i के 14 जनवरी 1998 को समाप्त होने के पहले से ही परिवारों के पुनर्मिलन के लिए एक व्यवस्था लागू की गयी थी, जिससे अमेरिका में जीवनसाथियों और बच्चों को प्रवेश कराने की प्रक्रिया में तेजी लायी जा सके। इसके लिए 2000 के लीगल इमिग्रेशन फैमिली इक्विटी एक्ट लाइफ क़ानून के जरिये एलपीआर के परिवारों के लिए एक गैर-आप्रवासी वर्गीकरण का सृजन किया गया, जिस पर 21 दिसम्बर 2000 को सार्वजनिक क़ानून 106-553 के रूप में राष्ट्रपति क्लिंटन ने हस्ताक्षर किये।

लाइफ LIFE क़ानून का विस्तार किया गया, पहले के इमिग्रेशन एंड नेशनलिटी एक्ट आईएनए INA) की धारा 245i के संशोधन के "ग्रैंडफादरिंग डेडलाइन" 30 अप्रैल 2001 तक यह विस्तार हुआ। इस विस्तार से उन आवेदकों को मौक़ा मिला जो पहले की 1997 आईएनए समय सीमा में आवेदन नहीं कर पाए थे। दूसरे विस्तार में वे एक आप्रवासी वीजा याचिका या श्रमिक प्रमाणन के लिए आवेदन दे सकते थे।

उन आप्रवासी वीजा याचिका या श्रमिक प्रमाणन के आवेदकों को यह विस्तार मिला जिन्होंने 20 अप्रैल 2001 से पहले आवेदन किया था और जो शारीरिक रूप से अमेरिका में उपस्थित थे। उन्हें ग्रैंडफादर्ड होने की इजाजत मिली, जैसा कि पहले आईएनएस 245i में समय सीमा का विस्तार मिला था और इसके जरिये आवेदकों को अपनी पात्रता की जानकारी बाद में देने का मौक़ा प्रदान किया गया।

राष्ट्रपति क्लिंटन के 2000 के लाइफ अधिनियम की धारा 1102 के संशोधित क़ानून 8 यु.एस.सी. 1101 ए 15) के अनुच्छेद 101ए15 में एक नया गैर-आप्रवासी वर्गीकरण पैराग्राफ वी वीजा जोड़ा गया; उन कुछ कानूनी स्थायी निवासियों एलपीआर LPR) के जीवनसाथी और बच्चों के लिए ऐसा किया गया, जिन्होंने विदेश विभाग के मासिक वीजा बुलेटिन के अनुरूप परिवार-आधारित दूसरी एफ2ए वरीयता श्रेणी में एक आप्रवासी वीजा संख्या प्राप्त करने के लिए कम से कम तीन साल तक इंतज़ार किया है।

धारा 1102 ने क़ानून 8 यु.एस.सी. 11840) में धारा 214 को भी जोड़ा, ताकि वी गैर-आप्रवासी दर्जे और रोजगार अनुमति के नियम व शर्त रखे जा सकें और वी गैर-आप्रवासी वर्गीकरण के संदर्भ को शामिल करने के लिए क़ानून 98 यु.एस.सी. 1184 बी और 1184 एच की धारा 214 बी तथा 214 एच को समरूप बनाने के लिए ऐसा किया गया।

लाइफ क़ानून 2000 के पारित होने से पहले, अमेरिकी नागरिक से विवाह करने वाले और विदेश में रहने वाले विदेशी को प्रवेश करने से पहले अमेरिका से बाहर आप्रवासी वीजा प्राप्त करना पड़ता था।

2000 के लाइफ अधिनियम पर राष्ट्रपति क्लिंटन के हस्ताक्षर करने के बाद, वीजा याचिकाओं के लंबित या अनुमोदित अमेरिका के नागरिकों के जीवनसाथियों और उनके बच्चों को शुरू में गैर-आप्रवासी के रूप में प्रवेश दे दिया गया और बाद में उन्हें अमेरिका में आप्रवासी दर्जे में समायोजित कर लिया गया।

अमेरिका में पहले से मौजूद विदेशियों को इस क्षमा के जरिये वी गैर-आप्रवासी दर्जा प्राप्त करने और अमेरिका में रहने की इजाजत मिल गयी। इसके अलावा, पति/पत्नियों और 21 साल से कम के अविवाहित बच्चों को विदेश में वीजा के लिए आवेदन करने और वी गैर-आप्रवासी के रूप में अमेरिका में प्रवेश करने की अनुमति भी मिली।

2000 के लाइफ अधिनियम में के गैर-आप्रवासी वर्गीकरण अमेरिकी नागरिक के मंगेतर के लिए सीमित है ताकि वे 90 दिनों के अंदर शादी कर लें; साथ ही मंगेतर के बच्चे के लिए भी है।

हालांकि, 2000 के लाइफ अधिनियम में परिवर्तन किये गये और 14 अगस्त 2001 से उपधारा 1103ए प्रभावी हुई, जिससे क़ानून की धारा 101ए15 में सशोधन किया गया और एक नया "के" गैर-आप्रवासी वर्गीकरण लागू हुआ।

उपधारा 1103ए ने "के" गैर-आप्रवासी वर्गीकरण को क़ानून की धारा 101 ए15i के रूप में बदल दिया; अमेरिकी नागरिक के जीवनसाथी का वर्गीकरण धारा 101ए15केii और क़ानून की धारा 101 ए15केiii में विदेशी के बच्चों का वर्गीकरण किया गया।

किसी विदेशी द्वारा इस गैर-आप्रवासी वर्गीकरण को पाने के लिए अधिनियम की धारा 101ए15केii में तीन चीजों की आवश्यकता होती है।

  • विदेशी द्वारा अमेरिका में प्रवेश की मांग करते हुए "आप्रवासी वीजा की उपलब्धता" की प्रतीक्षा करनी चाहिए।
  • विदेशी का पहले से ही ऐसे अमेरिकी नागरिक से शादी-शुदा होना चाहिए जिसने उसकी ओर से आप्रवासी वीजा के उद्देश्य से सेवा के लिए एक रिश्तेदार वीजा याचिका दायर की हो।
  • उसी अमेरिकी नागरिक पति/पत्नी द्वारा विदेशी की ओर से एक आप्रवासी वीजा पाने के लिए याचिका दिया जाना जरुरी है।

2000 के लाइफ अधिनियम, 14 अगस्त 2001 और अन्य संशोधनों के बारे में अधिक जानकारी अमेरिकी नागरिकता और आव्रजन सेवा युएससीआईएस USCIS) की वेबसाईट या स्थानीय सेवा क्षेत्र कार्यालय से संपर्क करके प्राप्त की जा सकती है।

कानूनी स्थायी निवासी एलपीआर LPR) आम तौपर उन विदेशी ग्रीन कार्ड धारकों को कहा जाता है जो अमेरिकी नागरिक नहीं हैं, लेकिन जिन्हें वहां रहने और काम करने की अनुमति मिली हुई है। जिन लोगों ने किसी गैर-अमेरिकी नागरिक से शादी की है, वे इसके जरिये अपने जीवनसाथी और बच्चों को सीधे तौपर अमेरिका ले जाने में सक्षम होते हैं। अमेरिका में कानूनी तौपर प्रवेश करने से पहले अमेरिका के ग्रीन कार्ड धारक के जीवन साथी को विदेश विभाग से आप्रवासी वीजा के मंजूर किये जाने का इंतजार करना चाहिए। प्रक्रमण में देरी की वजह से ऐसे वीजाओं को मंजूर होने में कभी-कभी पांच साल तक का समय लग जाया करता है। इस बीच, विदेश में जन्मा जीवनसाथी और परिवार किसी अन्य वीजा या यात्री के रूप में अमेरिका में प्रवेश नहीं कर सकता है। एलपीआर के लिए अपने उस देश में वापस जाने का विकल्प हमेशा खुला रहता जहां के वे नागरिक हैं, लेकिन अगर वे अमेरिका में ही रहना चाहते हैं और अपने "विदेशी" जीवनसाथी और परिवार के साथ ही जुड़े रहने के इच्छुक हैं तो वे एक अनोखी स्थिति में होते हैं:

  • काम करने, व्यापार या अध्ययन के लिए अमेरिका में आये अस्थायी आगंतुक और गैर-आप्रवासी अपने आश्रित पति/पत्नी के अपने साथ यात्रा करने और अपने साथ उनके वापस होने के कार्यक्रम को प्रायोजित कर सकते/सकती हैं।
  • अमेरिकी नागरिकों के पास और अधिक विकल्प हैं और वे अपने जीवनसाथी को अमेरिका बुलाने को प्रायोजित कर सकते हैं और फिर लीगल इमिग्रेशन एंड फैमिली इक्विटी एक्ट "लाइफ एक्ट" के तहत उन्हें आप्रवासी दर्जा दिलवा सकते हैं।

लाइफ क़ानून द्वारा बने वी वीजा के बारे में वी वीजा पेज पर अधिक विवरण हैं।

                                     

2.13. वीजा की श्रेणियां यात्रा अनुमति के लिए इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली

अमेरिकी कानून के अनुसार यात्रा अनुमति के लिए इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली वीजा नहीं है। बल्कि यह एक ऐसी प्रणाली है जहां अमेरिका जाने के बहुत दिन पहले ही अनुमोदित आवेदन की जरूरत होती है, जो वीजा आवश्यकताओं जैसा ही है। वीजा छूट कार्यक्रम के अनेक देशों के लोगों के लिए इसे जनवरी 2009 से अनिवार्य कर दिया गया है। इसे कभी-कभी इलेक्ट्रॉनिक वीजा कहा जाता है और इसका उपयोग इंटरनेट पर भी खुद ही या किसी ट्रैवल एजेंट के माध्यम से किया जा सकता है।

                                     

3. वीज़ा खंडन

इमिग्रेशन एंड नैशनल एक्ट की धारा 212g उन विदेशियों के अनेक वर्गों को परिभाषित करती है जो वीजा पाने के योग्य हैं।

खारिज करने के लिए आधार शामिल किये जा सकते हैं, लेकिन ये निम्नलिखित तक ही सीमित नहीं हैं:

  • नागरिकता के लिए अयोग्य
  • सार्वजनिक प्रभार इस संदर्भ में चार्ज का अर्थ बोझ है
  • पहले अमेरिका से हटा दिया गया
  • स्वास्थ्य आधार
  • अवैध प्रवेशक या आप्रवास उल्लंघनकारी
  • सुरक्षा आधार
  • आपराधिक आधार
  • अनुरोध दस्तावेजों का उत्पादन करने में विफलता
                                     
  • अम र क र ज य स य क त र ज य अम र क क घटक एक र जन त क इक ई ह क ल म ल कर 50 र ज य ह ज एक - द सर क स थ म लकर ब ध ह ए ह प रत य क र ज य एक पर भ ष त
  • भ त ज - 1 व ज ध रक क प रव स क अवध क अ त म अपन आश र त क स थ स य क त र ज य अम र क स चल ज न आवश यक ह स य क त र ज य अम र क स प रस थ न
  • and Nationality Act क ध र 101 ए 15 एच क अ तर गत स य क त र ज य अमर क म एक ग र - आप रव स व ज ह यह अमर क न य क त ओ क व श षत प र ण व यवस य
  • 27 जनवर 2017 क अम र क र ष ट रपत ड न ल ड ट रम प न स य क त र ज य अम र क म व द श आत कव द प रव श स र ष ट र क स रक ष अ ग र ज Protecting the
  • 2008 म न ल सन र प र ट क अन स र स य क त र ज य अम र क म व ज क प स क र ड ट क र ड क ब ज र म 38.3 क और ड ब ट क र ड क ब ज र म 60.7 क म र क ट
  • क र य अन मत क ल ए भ रत य व ज आव दन प रपत र म तथ य छ प न सम ब ध त श क ष क वर णन क य गय थ भ रत य ज च, स य क त र ज य अम र क म द वय न ख ब र गड
  • शरण र थ क दर ज क ल ए बढ त म ग, क आल व अपन सभ सदस य क ल ए व ज म क त दर ज ह स ल कर ल य ह अम र क क स दर भ म यह नए क न न क व ज छ ट क र यक रम
  • अपर ध य व ज ओवरस ट और स रक ष खतर पर ध य न क द र त कर ग नव बर 2015 प र स क हमल क ब द, ट रम प न म स ल म व द श य क स य क त र ज य अम र क म
  • व व ह र त व ज स ह आ ह और उनक एक ब ट नल न ह ज स य क त र ज य अम र क म एक स फ टव यर इ ज न यर ह 42 स ल स अध क क स व प र करन क ब द 31 जनवर
                                     
  • आमत र पर इसम स य क त र ज य अम र क स य क त र ष ट र य अन य पश च म द श क अप रव स व ज अन म दन समय स कम समय लगत ह अम र क म भ रत क व ण ज य द त व स
  • ओल प क श तक ल न ख ल क र प म ज न ज त ह स य क त र ज य अम र क म क ल फ र न य क स क व घ ट म 18 - 28 फरवर 1960 क ब च आय ज त एक श तक ल न
  • अम र क स थ त न य य र क म न य क त भ रत य उप मह व ण ज य द त रह च क ह व 1999 ब च क आईएफएस अध क र ह तथ वर तम न म न य य र क म ह स य क त र ष ट र
  • श र ष 10 क पन य म स ज न ह व द श कर मच र य क स य क त र ज य अम र क ल न क ल ए L1 व ज प र प त ह रह ह नव बर 2008 एसईस 10 क य फ इल ग म
  • क य कई र ष ट र ख ड य द ध क गठब धन म श म ल ह गए गठब धन म स न य बल क बह मत स य क त र ज य अम र क सऊद अरब, स य क त र ष ट र और इज प ट स प र प त
  • व द श व य प र और कम दर क व स त र करन क ल ए प रय स क य 1943 म हल म स क सम म लन क ल ए स य क त र ज य अम र क क प रत न ध क र प म क र य क य य न इट ड
  • क गडम और स य क त र ज य अम र क क न र म त ओ द व र सह - उत प द त यह फ ल म व शत ब द क श र आत म द चच र भ इय क आपस स ब ध क ब र म ह
  • 18 2 प प 182 - 198 र ज व क म र क र य क स य क त र ज य अम र क और च न क स थ बदलत स ब ध: क र य क ल ए न ह त र थ - भ रत आर थ क स ब ध, जर नल ऑफ
  • आवश यकत क ब न अ तरर ष ट र य स तर पर प रस रण क य गय थ क य क व च र स ल पहल 1960 क ओल प क क ल ए गए थ ख ल स य क त र ज य अम र क म स क म
  • स य क त र ज य अम र क क व ज क ल ए आव दन क य क त एक यमन क र प म उसक व ज क अवध क ब द म एक अव ध आप रव स क र प म रहन क आश क क क रण
                                     
  • प सप र ट क ल ए व ज सम प त कर द य भ रत और अल ब न य क ब च व य प र म म ल रह ह 2014 - 15 क द र न द व पक ष य व य प र 671.13 म ल यन अम र क ड लर भ रत
  • स य क त र ष ट र अम र क य न इट ड क गडम, फ र स, र स और च न क स प रस त व क र क सकत ह य स म त कर सकत ह ज स क स य क त र ष ट र अम र क क
  • द व र अप रभ व त थ अम र क क न न क तहत, न गम क व द श म न फ पर आयकर क भ गत न नह करन ह जब तक क ल भ स य क त र ज य अम र क म नह ल य ज त
  • थ स य क त र ज य अम र क स ड ट ब स क स क र प र शन. 1992: इसन ब स टन म अपन पहल ओवरस ज ब क र क र य लय ख ल 1993: यह भ रत म 13 कर ड र पए क प र र भ क
  • आस ट र य त ल र फ र स क एम पण क कर भ रत ब ज म न फ र कल न स य क त र ज य अम र क व डर व ल सन स य क त र ज य अम र क र म श स त र : क ट ल य अर थश स त र
  • क छ न कह क स ब ध क एमब एनए द व र प रम ख व ज ज र कर त और व ज क म ल न र म त ब क ऑफ अम र क क स थ व लय करक डर य ज रह थ ह ल क 21 द सम बर
  • 50 म ल यन ड लर क ऋण क व स त र स समझ त पर हस त क षर क ए 1 म र च 2016 स स र न म ज न व ल भ रत य न गर क क ल ए आन पर व ज व ज ऑन अर इवल क
  • र ष ट र क स य क त सकल घर ल उत प द खरब अम र क ड लर क ह भ रत न 100, 000 स न य और प ल स कर म य क च र मह द व प भर म स य क त र ष ट र क प त स
  • प र द य ग क क आध र पर व श व क सबस बड इ टरन ट क पन Empty citation मदद ह ब र न छह स ल क उम र म र स स स य क त र ज य अम र क म आकर बस गए
  • अफ र क ल ट न अम र क और ख ड हज त र थय त र और म त र लय क व ण ज य, प सप र ट और व ज स व ओ सह त व द श म मल क र ज य म त र क र प म शपथ ल थ
  • स य क त र ज य अम र क म एक द हर न गर कत प रण ल ह ज सम व यक त अपन न व स र ज य क स थ स य क त र ज य क भ न गर क ह र ज य क स व ध न स य क त

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →