पिछला

ⓘ यक्ष. यह लेख यक्ष नामक पौराणिक चरित्रों पर है। अन्य यक्ष लेखों के लिए देखें: यक्ष यक्षों एक प्रकार के पौराणिक चरित्र हैं। यक्षों को राक्षसों के निकट माना जाता ह ..

                                               

काकविन कुंजरकर्ण

काकविन कुञ्जरकर्न धर्मकथन एक काकविन ग्रन्थ है। यह कुंजरकर्ण पर आधारित है तथाप...

यक्ष
                                     

ⓘ यक्ष

यह लेख यक्ष नामक पौराणिक चरित्रों पर है। अन्य यक्ष लेखों के लिए देखें: यक्ष

यक्षों एक प्रकार के पौराणिक चरित्र हैं। यक्षों को राक्षसों के निकट माना जाता है, यद्यपि वे मनुष्यों के विरोधी नहीं होते, जैसे राक्षस होते है। माना जाता है कि प्रारम्भ में दो प्रकार के राक्षस होते थे; एक जो रक्षा करते थे वे यक्ष कहलाये तथा दूसरे यज्ञों में बाधा उपस्थित करने वाले राक्षस कहलाये।

यक्ष का शाब्दिक अर्थ होता है जादू की शक्ति।

हिन्दू धर्मग्रन्थो में एक अच्छे यक्ष का उदाहरण मिलता है जिसे कुबेर कहते हैं तथा जो धन-सम्पदा में अतुलनीय थे। एक अन्य यक्ष का प्रसंग महाभारत में भी मिलता है। जब पाण्डव दूसरे वनवास के समय वन-वन भटक रहे थे तब एक यक्ष से उनकी भेंट हुई जिसने युधिष्ठिर से विख्यात यक्ष प्रश्न किए थे।

                                     
  • यह ल ख यक ष प रश न न मक एक ह न द कह वत पर ह अन य यक ष ल ख क ल ए द ख यक ष बह व कल प य ध ष ठ र - बक स व द अथव यक ष प रश न मह भ रत म एक प रस ग
  • यक ष - एक प रक र क प र ण क चर त र यक ष प रश न - एक ह न द कह वत यक ष प रश न - भ तप र व प रध नमन त र अटल ब ह र व जप य क एक कव त यक ष कल उत सव
  • यह ल ख यक ष प रश न न मक एक कव त पर ह अन य यक ष ल ख क ल ए द ख यक ष बह व कल प यक ष प रश न एक कव त ह ज भ तप र व प रध नमन त र श र अटल ब ह र
  • यक ष एक व र ष क कल उत सव ह ज स ईश फ उ ड शन, ईश य ग क द र, क य बत र म आय ज त करत ह जनवर म श र क य गय यक ष भ रत क व ख य त कल क र
  • द व र रच त व ख य त द तक व य ह इसम एक यक ष क कथ ह ज स क ब र अलक प र स न ष क स त कर द त ह न ष क स त यक ष र मग र पर वत पर न व स करत ह वर ष
  • अक ल तपस व क पर श न करत ह ग धर व और यक ष द न ह कभ कभ एक सम न अर थ क ल य उपय ग क य ज त ह पर त यक ष एक द वत ओ क क स म क र प म ज य द स म न य
  • र म यण क एक प त र यह स क त यक ष क प त र थ ज सक व व ह स ड न मक र क षस क स थ ह आ थ यह अय ध य क सम प स थ त स दर वन म अपन पत और द प त र
  • प न क ख ज म पह च थ इस क ण ड पर यक ष क अध क र थ सर वप रथम नक ल प न ल न गय जब प न प न लग त यक ष न आव ज द क इस प न पर उसक अध क र ह
  • प र व र ध मल लक ल म कभ न प ल त कभ खस र ज य क अन तर गत रह न प ल म यक ष मल ल क समय पश च त मल ल गणर ज य क स थ पन क ब द यह स थ न प र य खस रज ट औ
                                     
  • तथ शर कर मय क कर ल श ल पथर ल और स वर णमय ह वह द त य, द नव, यक ष और बड बड न ग क ज त य व स करत ह वह अर णनयन ह म लय क सम न
  • अपम न क य आहत श ख ड न आत महत य क व च र ल कर वह प च ल स भ ग गई तब एक यक ष न उस बच य और अपन ल ग पर वर तन कर अपन प र षत व उस द द य इस प रक र
  • क ल ए मथ र क प र त त व क प रस द ध ह लगभग त सर शत क अन त तक यक ष और यक ष य क प रस तर म र त य उपलब ध ह न लगत ह मथ र म ल ल र ग क पत थर
  • सम बन ध त य म र त य यक ष क ह यक ष प ज तत क ल न ल क धर म क एक अभ न न अ ग थ स स क त, प ल और प र क त स ह त य म यक ष प ज क वर णन व षद
  • अलक म र पर वत पर यक ष ग धर व क नगर और यक षर ज क ब र क र जध न क ल द स न अलक क अपन म घद त म यक ष क नगर कह ह और उस क ल स पर वत क ढ ल
  • क यह सब ज नकर बह त ब र लग र वण तथ र क षस क क ब र तथ यक ष स य द ध ह आ यक ष बल स लड त थ और र क षस म य स अत: र क षस व जय ह ए र वण न
  • र ज क म भर ज थ इनक शर र क वर ण न ल थ जबक इनक च न ह कलश थ इनक यक ष क न म क ब र और यक ष ण क न म धरणप र य द व थ ज न धर म वलम ब य क अन स र
  • क रचन ओ म च त रकल क व षय क अन क प रस ग ह म घद त म यक ष - पत न क द व र यक ष क भ वगम य च त र क उल ल ख ह स वर ण म य ग क कल ट ड आईएल
  • स गम ह इसक फ ट आग क स थ न द न ब ब घ ट कहल त ह इस स थ न स यक ष व यक ष ण क व श ल म र त प र प त ह ई ह यक षव ल म र त भ रत म म ल अब
  • 2266.jpg क ञ जरकर ण, ज व क प र च न गद य ग रन थ ह ज क जरकर ण न मक यक ष द व र कह गय ह यह कथ मह य न ब द ध सम रद य पर आध र त ह क कव न क जरकर ण
                                     
  • स स क त व य करण क रचय त ह ह उनक क त य अब उपलब ध नह ह क न त यक ष प ण न एव अन य स स क त व य करण न उनक व च र क सन दर भ द य ह श कट यन
  • ह म घद त म मह कव क ल द स ज न क स श प त यक ष क व षय म उल ल ख क य ह म घद त म वह यक ष म घ क ह द त स व क र कर उसक म ध यम स अपन पत न
  • च न - ल प ल न - ल प ह ण - ल प मध य क षरव स तर - ल प प ष प - ल प द व - ल प न ग - ल प यक ष - ल प गन धर व - ल प क न नर - ल प मह रग - ल प अस र - ल प गर ड - ल प म गचक र - ल प
  • स ह त य म उपलब ध कत पय सन दर भ स ज ञ त ह त ह क यह क र त, क न नर, यक ष त गव, क ल द, खस इत य द ज त य न व स करत थ मह भ रत क वन पर व म
  • क ष ण यज र व द क प रम ख श ख ह व ष ण प र ण क अन स र इस श ख क प रवर तक यक ष क श ष य त त त र ऋष थ यह श ख दक ष ण भ रत म अध क प रचल त ह यह श ख
  • त र थ, म र ज प र 26. करण क ट ल म र ज प र 27. न भ कमल, थ न सर 28. रन त क यक ष ब ड प पल 29. स थ न श वर मह द व मन द र 30. ओजस त र थ, शमश प र 31. र ण क
  • क र प म ब र ह मण ग र थ म स व क त ह च क थ पर ब द क स ह त य म यक ष और यक ष ण अपद वत समझ ज न लग थ त त र क पर पर म यक ष ण क स द ध
  • सहजत स यक ष क सभ उपसर ग क सह गए, उसक ब द जब यक ष न द ख क यह म र क स भ ब त स प रभ व त नह ह त यह अवश य ह क ई मह प र ष ह ग यक ष न उसस
  • वह अघमर षण क प ह जह प डव क वनव स क ल म च त रक ट प रव स क द र न यक ष य ध ष ठ र स व द ह आ थ ऐस म न यत ह क रव व र क सप तम क इस क ड म
  • मद लस क कथ न प रक र क स ष ट क प ण यमय वर णन, कल प न तक ल क न र द श, यक ष - स ष ट न र पण, र द र आद क स ष ट द व पचर य क वर णन, मन ओ क अन क प पन शक
                                     
  • सम द य द व र ह न द द व - द वत ओ क भ प ज ज त रह ह ग म द र म पद य वत त र थकर, गण श, अ ब क यक ष श लम ज क और अन य म र त य उत क र ण ह

शब्दकोश

अनुवाद