पिछला

ⓘ भूटान का राजतंत्र हिमालय पर बसा दक्षिण एशिया का एक छोटा और महत्वपूर्ण देश है। यह चीन और भारत के बीच स्थित भूमि आबद्धदेश है। इस देश का स्थानीय नाम ड्रुग युल है, ..


                                               

पारो

                                               

उपमहाद्वीप

उपमहाद्वीप एक महाद्वीप के भीतर एक बड़े, अपेक्षाकृत घुन्ना भूभाग है। शब्दकोश प...

                                               

दार्जिलिंग का इतिहास

ऐतिहासिक रूप से दार्जिलिंग और इसके आसपास का तराई क्षेत्र तत्कालीन किरात राज्य...

भूटान
                                     

ⓘ भूटान

भूटान का राजतंत्र हिमालय पर बसा दक्षिण एशिया का एक छोटा और महत्वपूर्ण देश है। यह चीन और भारत के बीच स्थित भूमि आबद्धदेश है। इस देश का स्थानीय नाम ड्रुग युल है, जिसका अर्थ होता है अझ़दहा का देश। यह देश मुख्यतः पहाड़ी है और केवल दक्षिणी भाग में थोड़ी सी समतल भूमि है। यह सांस्कृतिक और धार्मिक तौर से तिब्बत से जुड़ा है, लेकिन भौगोलिक और राजनीतिक परिस्थितियों के मद्देनजर वर्तमान में यह देश भारत के करीब है।

भूटान का धरातल विश्व के सबसे ऊबड़ खाबड़ धरातलों में से एक है! 100 किमी की दूरी के बीच में 150 से 7000मी की ऊँचाई पायी जाती है! भूटान पहले भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश तथा मालदीव से कोई प्रवेश कर नहीं लेता था, पर अब लेना शुरू कर दिया है।

                                     

1. नाम

कुछ लोगों के अनुसार भूटान संस्कृत के भू-उत्थान से बना शब्द है जिसका शाब्दिक अर्थ है ऊंची भूमि । कुछ के अनुसार यह भोट-अन्त भोटान्त यानि तिब्बत का अन्त का बिगड़ा रूप है। यहां के निवासी भूटान को ड्रुग-युल अझ़दहा का देश तथा इसके निवासियों को ड्रुगपा कहते हैं। इसके अलावा भी भूटान के कई नाम रहे हैं पूर्व में।

                                     

2. इतिहास

सत्रहवीं सदी के अंत में भूटान ने बौद्ध धर्म को अंगीकार किया। 1865 में ब्रिटेन और भूटान के बीच सिनचुलु संधि पर हस्ताक्षर हुआ, जिसके तहत भूटान को सीमावर्ती कुछ भूभाग के बदले कुछ वार्षिक अनुदान के करार किए गए। ब्रिटिश प्रभाव के तहत 1907 में वहाँ राजशाही की स्थापना हुई। तीन साल बाद एक और समझौता हुआ, जिसके तहत ब्रिटिश इस बात पर राजी हुए कि वे भूटान के आंतरिक मामलों में हस्त्क्षेप नहीं करेंगे लेकिन भूटान की विदेश नीति इंग्लैंड द्वारा तय की जाएगी। बाद में 1947 के पश्चात यही भूमिका भारत को मिली। दो साल बाद 1949 में भारत भूटान समझौते के तहत भारत ने भूटान की वो सारी जमीन उसे लौटा दी जो अंग्रेजों के अधीन थी। इस समझौते के तहत भारत का भूटान की विदेश नीति एवं रक्षा नीति में काफी महत्वपूर्ण भूमिका दी गई।

                                     

3. राजनीति

भूटान का राजप्रमुख राजा अर्थात द्रुक ग्यालपो होता है, जो वर्तमान में जिग्मे खेसर नामग्याल वांग्चुक हैं। हालांकि यह पद वंशानुगत है लेकिन भूटान के संसद शोगडू के दो तिहाई बहुमत द्वारा हटाया जा सकता है। शोगडू में 154 सीटे होते हैं, जिसमे स्थानीय रूप से चुने गए प्रतिनिधि 105, धार्मिक प्रतिनिधि 12 और राजा द्वारा नामांकित प्रतिनिधि 37 और इन सभी का कार्यकाल तीन वर्षों का होता है। राजा की कार्यकारी शक्तियाँ शोगडू के माध्यम से चुने गए मंत्रिपरिषद में निहित होती हैं। मंत्रिपरिषद के सदस्यों का चुनाव राजा करता है और इनका कार्यकाल पाँच वर्षों का होता है। सरकार की नीतियों का निर्धारण इस बात को ध्यान में रखकर किया जाता है कि इससे पारंपरिक संस्कृति और मूल्यों का संरक्षण हो सके। हालांकि भूटान में रहने वाले नेपाली मूल के अल्पसंख्यक समुदायों में कुछ असंतोष है, जो अपनी संस्कृति पर भूटानी संस्कृति लादे जाने के खिलाफ हैं। इस व्यवस्था का विरोध करने वाले नेपाली भूटानी नेपाल तथा भारत के विभिन्न हिस्सों में शरणार्थी बनने को विवश हैं। पूर्वी नेपाल में करीब एक लाख से ज्यादा व भारत में ३० हजार के करीब भूटानी नेपाली शरणार्थी के तौपर रह रहे हैं। उनकी देखभाल शरणार्थी संबंधी राष्ट्रसंघीय उच्चायुक्त से मिलकर नेपाल सरकाकर रही है।

                                     

4. भूगोल

भूटान चारों तरफ से स्थल से घिरा हुआ पर्वतीय क्षेत्र है। उत्तर में पर्वतों की चोटियाँ कहीं-कहीं 7000 मीटर से भी ऊँची हैं, सबसे ऊँची चोटी कुला कांगरी 7553 मीटर है। गांगखर पुएनसुम की ऊँचाई 6896 मीटर है, जिस पर अभी तक मानवों के कदम नहीं पहुँचे हैं। देश का दक्षिणी हिस्सा अपेक्षाकृत कम ऊँचा है और यहाँ कई उपजाऊ और सघन घाटियाँ हैं, जो ब्रह्मपुत्र की घाटी से मिलती है। देश का लगभग 70% हिस्सा वनों से आच्छादित है। देश की ज्यादातर आबादी देश के मध्यवर्ती हिस्सों में रहती है। देश का सबसे बड़ा शहर, राजधानी थिम्फू है, जिसकी आबादी 50.000 है, जो देश के पश्चिमी हिस्से में स्थित है। यहाँ की जलवायु मुख्य रूप से उष्णकटिबंधीय है।

                                     

5. अर्थव्यवस्था

विश्व के सबसे छोटी अर्थव्यवस्थाओं में से एक भूटान का आर्थिक ढाँचा मुख्य रूप से कृषि और वन क्षेत्रों और अपने यहाँ निर्मित पनबिजली के भारत को विक्रय पर निर्भर है। ऐसा माना जाता है कि इन तीन चीजों से भूटान की सरकारी आय का 75% आता है। कृषि जो यहाँ के लोगों का आधार है, इस पर 90% से ज्यादा लोग निर्भर हैं। भूटान का मुख्य आर्थिक सहयोगी भारत हैं क्योंकि तिब्बत से लगने वाली भूटान की सीमा बंद है। भूटान की मुद्रा ङुल्ट्रम है, जिसका भारतीय रुपया से आसानी से विनिमय किया जा सकता है। औद्योगिक उत्पादन लगभग नगण्य है और जो कुछ भी है, वे कुटीर उद्योग की श्रेणी में आते हैं। ज्यादातर विकास परियोजनाएँ जैसे सड़कों का विकास इत्यादि भारतीय सहयोग से ही होता है। भूटान की पनबिजली और पर्यटन के क्षेत्र में असीमित संभावनाएँ हैं।

                                     

6. लोग एवं धर्म

भूटान की लगभग आधी आबादी भूटान के मूलनिवासी हैं, जिन्हें गांलोप कहा जाता है और इनका निकट का संबंध तिब्बत की कुछ प्रजातियों से है। इसके अलावा अन्य प्रजातियों में नेपाली है और इनका सम्बन्ध नेपाल राज्य से है। उसके बाद शरछोगपा और ल्होछमपा हैं। यहाँ की आधिकारिक भाषा जोङखा है, इसके साथ ही यहाँ कई अन्य भाषाएँ बोली जाती हैं, जिनमें कुछ तो विलुप्त होने के कगापर हैं।

भूटान में आधिकारिक धर्म बौद्ध धर्म की वज्रयान शाखा है, जिसका अनुपालन देश की लगभग ७५% जनता करती है। भूटान की अतिरिक्त २५ प्रतिशत जनसंख्या हिंदू धर्म की अनुयायी है। भूटान के हिंदू धर्मी नेपाली मूल के लोग है, जिन्हे ल्होछमपा भी कहा जाता है।

                                     

7. संस्कृति

भूटान दुनिया के उन कुछ देशों में है, जो खुद को शेष संसार से अलग-थलग रखता चला आ रहा है और आज भी काफी हद तक यहाँ विदेशियों का प्रवेश नियंत्रित है। देश की ज्यादातर आबादी छोटे गाँव में रहते हैं और कृषि पर निर्भर हैं। शहरीकरण धीरे-धीरे अपने पाँव जमा रहा है। बौद्ध विचार यहाँ की ज़िंदगी का अहम हिस्सा हैं। तीरंदाजी यहाँ का राष्ट्रीय खेल है।

                                     
  • ह भ ट न क स सद क गठन र ष ट र य सभ र ष ट र य पर षद और भ ट न क र ज स म लकर ह त ह यह भ ट न स सद क शक त श ल सदन ह वर ष 1953 म भ ट न क
  • 2017 - 02 - 15 at the व ब क मश न. भ ट न भ ट न क व द श क सम बन ध भ रत क व द श क सम बन ध ड कल म व व द 2017 भ ट न क इत ह स भ रत - भ ट न क ब च मजब त सम बन ध द
  • र ष ट र य पर षद भ ट न क द सदन य स सद क उच च सदन ह भ ट न क स सद क गठन र ष ट र य सभ र ष ट र य पर षद और भ ट न क र ज क सम म ल त कर ह त ह यह
  • भ ट न क प र च न इत ह स म थक क र प म ह अन म नत भ ट न क म ईस प र व बस त य बसन श र ह ई दन थक थ ओ क अन स र इस पर व शत ईस प र व
  • ह ग भ ट न क क न न क न न क द न ट कड म उनक व षय वस त क ल ए जर म न क अपर ध श म ल ह ज द ड स ह त क प रक ह 2013 तक, भ ट न म 32
  • यह भ ट न क नगर क स च ह 1 - नगर : थ म फ नगर क जनस ख य 98, 676 ज ल क न म: थ म फ 2 - नगर प न ख नगर क जनस ख य 21, 500 ज ल क न म प न ख 3 - नगर
  • ह म लय क घ ट य म स थ त प र भ ट न र जश ह क र जध न ह यह भ ट न क एकम त र हव ई अड ड भ ह प र - भ ट न Paro Dzong Dzong Downtown Paro Taktshang
  • भ ट न क स न र यल भ ट न आर म र यल ब ड ग र ड स और र यल भ ट न प ल स क स य क त न म ह भ ट न क सभ स म य भ म स ज ड ह और क ई भ जलस म नह ह
  • भ ट न क स सद क गठन भ ट न क र ज र ष ट र य पर षद और र ष ट र य सभ स म लकर ह त ह इस स सद म म र ष ट र प पर षद उच च सदन और र ष ट र य सभ न म न सदन
  • ह क इन त न च ज स भ ट न क सरक र आय क 75 आत ह क ष ज यह क ल ग क आध र ह इसपर 90 स ज य द ल ग न र भ ह भ ट न क म ख य आर थ क सहय ग
  • भ ट न क ध वज भ ट न क र ष ट र य ध वज ह
                                     
  • भ ट न क र जप रम ख र ज अर थ तद र क ग य लप ह त ह ज वर तम न म ज ग म स घ व गच क ह हल क यह पद व श न गत ह ल क न भ ट न क स सद श गड क द
  • भ ट न क र ष ट र य क र क ट ट म, ज सक न म द ड र गन ह अ तर र ष ट र य क र क ट म भ ट न स म र ज य क प रत न ध त व करत ह ट म भ ट न क र क ट क उ स ल ब र ड
  • स ह त य क भ ष ए ह अन य ग र - भ ट न अल पस ख यक भ ष ओ क भ भ ट न क स म ओ और दक ष ण और प र व भ ट न म म ख य र प स न प ल भ ष ल त श म प सम द य क स थ
  • द श भ रत क कर ब ह भ ट न क र यल सरक र न 2003 म द श क जनस ख य 752, 700 क र प म स च बद ध क थ 1970 क दशक म भ ट न सरक र न उस न क य म
  • भ ट न क अध कतर ह स स पर वत य ओर ज गल म आत ह और ज स भ ट न क अर थव यवस थ ह यह क श सक द व र यह अच छ य त य त क स स धन क उपलब ध करव न
  • पश च म और उत तर भ ट न क र जन त क और स स क त क र प स प रभ व न ग ल प प र व भ ट न क श र च प दक ष ण भ ट न म क द र त ल टशम प और भ ट न आद व स और आद व स
  • स च Politics of Bhutan भ ट न क स व ध न वर ष 2008 म ल ग भ ट न क नए स व ध न म 35 अन च छ द तथ 4 अन स च तय ह भ ट न म ब र ट न क तर ज पर स व ध न क
  • भ ट न वज रय न ब द ध धर म म आध क र क धर म ह भ ट न स व ध न द व र ब द ध द श ह और ब द ध धर म द श म एक महत वप र ण भ म क न भ त ह ब द ध धर म भ ट न
  • स च Politics of Bhutan भ ट न क य र प य स घ क द श क स थ र जनय क सम बन ध ह म भ रत क सहय ग स भ ट न न अपन व द श क स ब ध स ध रन आरम भ
  • म व द ध क ह श क षण और प रश सन भ ट न म 1989 तक लगभग 10 प रत शत सरक र कर मच र मह ल ए थ और 1989 म भ ट न म श र ष स व ल स व पर क ष स न तक
                                     
  • भ ट न क र ष ट र य फ टब ल ट म अ तरर ष ट र य प र ष फ टब ल म भ ट न क प रत न ध त व करत ह भ ट न फ टब ल मह स घ, ज क एश य ई फ टब ल मह स घ क सदस य ह
  • ह ए थ भ ट न म द प रक र क न प ल म ल क ल ग ह - एक ज पहल स भ ट न म रहत थ द सर ज क दशक म भ रत स भ ट न म रहन लग भ ट न मह य न
  • र यल भ ट न प ल स भ ट न म क न न और व यवस थ बन ए रखन और अपर ध क र कथ म क ल ए ज म म द र ह इसक गठन 1 स त बर 1965 क 555 कर म य क स थ क य गय
  • र यल य न वर स ट ऑफ भ ट न Royal University of Bhutan यह व श वव द य लय भ ट न क र ष ट र य व श वव द य लय ह इस व श वव द य लय क स थ पन ज न क
  • भ ट न क स ग त इसक स स क त क एक अभ न न ह स स ह और स म ज क म ल य क प रस र त करन म अग रण भ म क न भ त ह प र पर क भ ट न स ग त म ल क स ध र म क
  • क य ज त थ भ ट न ह द क म ख य त य ह र दशन ह भ ट न म यह एकम त र म न यत प र प त ह द स र वजन क अवक श ह इस 2015 म भ ट न क र ज द व र
  • प स स म लकर बन ह 1789 तक, क च ब ह र टकस ल क स क क भ ट न म फ ल गए इसक ब द, भ ट न न अपन स वय क स क क क ज र करन श र क य ज न ह च तरम
  • भ ट न द न य क उन क छ द श म ह ज ख द क श ष स स र स अलग - थलग रखत चल आ रह ह और आज भ क फ हद तक यह व द श य क प रव श क फ क छ न य त र त ह
  • 2008 क भ ट न स व ध न और प छल क न न भ ट न म धर म क स वत त रत प रद न करत ह ह ल क सरक र न ग र - ब द ध म शनर गत व ध य क स म त कर द य ह
                                               

पारो अंतर्रष्ट्रीय हवाई अड्डा

पारो भूटान देश का एकमात्र हवाई अड्डा है जहां सिर्फ भूटान के राजा के हवाई जहाज को उतरने की अनुमति है और किसी भी देश के जहाज को पारो हवाई अड्डे पर उतरने की अनुमति नही है।

                                               

जिग्मे सिंघे वांगचुक

जिग्मे सिंग्ये वांगचुक, འཇིགས་ སེང་གེ་ དབང་ Wang 1972 से भूटान के पूर्व राजा अपने बड़े बेटे, जिग्मे खेसर नामग्येल वांगचुक के पक्ष में अपना पद छोड़ने तक, 2006 में।

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →