पिछला

ⓘ प्रचालन तन्त्र. प्रचालन तंत्र साफ्टवेयर का समूह है जो कि आंकड़ों एवं निर्देश के संचरण को नियंत्रित करता है। यह हार्डवेयर एवं साफ्टवेयर के बीच सेतु का कार्य करता ..


                                               

सकाल प्रचालन तंत्र

सकाल प्रचालन तंत्र ऐसा प्रचालन तंत्र है जिसका विकास विशेष रूप से रीयल-टाइम का...

                                               

संचालन प्रणालियों की सूची

विन्डोस1.0 अप्रेल 30, 1985 विन्डोस 7अक्टुबर 22, 2009 विन्डोस3.2 विन्डोस2.0 वि...

                                               

एप्पल ऑपरेटिंग सिस्टम की सूची

बिल्ली नामकरण शैली = "Cheetah" "Puma" "Jaguar" "Panther" "Tiger" "Leopard" "S...

                                               

माइक्रोसॉफ्ट विंडोज़

माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज़, माइक्रोसॉफ़्ट द्वारा निर्मित सॉफ्टवेयर प्रचालन तन्त्और...

प्रचालन तन्त्र
                                     

ⓘ प्रचालन तन्त्र

प्रचालन तंत्र साफ्टवेयर का समूह है जो कि आंकड़ों एवं निर्देश के संचरण को नियंत्रित करता है। यह हार्डवेयर एवं साफ्टवेयर के बीच सेतु का कार्य करता है और कंप्यूटर का सॉफ्टवेयर घटक होता है। इसी की सहायता से ही कंप्यूटर में स्थापित प्रोग्राम चलते हैं। ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर का मेरुदंड होता है, जो इसके सॉफ्टवेयर व हार्डवेयर को नियंत्रण में रखता है। यह अनधिकृत व्यक्ति को कंप्यूटर के गलत प्रयोग करने से रोकता है। वह इसमें भी विभेद कर सकता हैं कि कौन सा निवेदन पूरा करना है और कौन सा नहीं, इसके साथ ही इनकी वरीयता भी ध्यान रखी जाती है। इसकी मदद से एक से ज्यादा सीपीयू में भी प्रोगाम चलाए जा सकते हैं। इसके अलावा संगणक संचिका को पुनः नाम देना, डायरेक्टरी की विषय सूची बदलना, डायरेक्टरी बदलना आदि कार्य भी प्रचालन तंत्र के द्वारा किए जाते है। डॉस, यूनिक्स, विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम और लिनक्स आदि कुछ प्रमुख प्रचालन तंत्र हैं।

विभिन्न प्रचालन तंत्रों में से कुछ हैं:लिनक्स, मैक ओएस एक्स, डॉस, आईबीएम ओएस/2 IBM OS/2, यूनिक्स, विन्डोज सीई, विन्डोज 3.x, विन्डोज ९५, विन्डोज ९८, विन्डोज मिलेनियम, विन्डोज़ एनटी, विन्डोज २०००, विन्डोज़ एक्स पी, विन्डोज़ विस्टा, विन्डोज़ 7।

प्रचालन तंत्र कंप्यूटर से जुड़े कई मौलिक कार्यों को संभालता है, जैसे की-बोर्ड से इनपुट लेना, डिस्प्ले स्क्रीन को आउटपुट भेजना, डाइरेक्टरी और संगणक संचिका को डिस्क में ट्रेक करना, इत्यादि। बड़े कंप्यूटरों में इसका काम और अधिक होता है। वह इनमें लगातार यह जांच करता है कि एक ही समय पर कंप्यूटर में चलने वाले प्रोगामों, फाइलों और एक ही समय पर खुलने वाली साइटों में दोहराव न हो। आरंभिक दौर में यह मेनफ्रेम कंप्यूटरों पर बड़े कामों के लिए ही हुआ करता था। बाद में धीरे-धीरे माइक्रोकम्प्यूटर्स में भी मिलने लगा, लेकिन उस समय इसमें एक समय पर केवल एक ही प्रोगाम रन करा सकते थे। मेनफ्रेम कंप्यूटर में १९६० में पहली बार बहुकार्यिक मल्टीटास्किंग सिस्टम आया था। इससे एक समय में एक से ज्यादा उपयोक्ता काम कर सकते थे। १९७० लिनक्स ने पहली बार पीडीपी-७ में प्रचालन तंत्र निकाला, जो मुख्यतया मल्टीटास्किंग, स्मृति प्रबंधन मेमोरी मैनेजमेंट, स्मृति संरक्षण मेमोरी प्रोटेक्शन जैसे कार्य करता था।

                                     

1.1. प्रकार उपयोगकर्ता के आधापर प्रकार

  • वास्तविक समय प्रचालन तन्त्र
  • बहुल उपयोगकर्ता: इस में एक से अधिक उपयोगकर्ता एक ही समय में काम कर सकते हैं।
  • एकल उपयोगकर्ता: इस में समय में केवल एक उपयोगकर्ता काम कर सकता है।

वास्तविक समय प्रचालन तन्त्र एक बहुकर्यिक प्रचालन तन्त्र है जो वास्तविक समय अनुप्रयोगो को क्रियन्वित करता है। वास्तविक समय ऑपरेटिंग सिस्टम अक्सर विशेष समयबद्धन एल्गोरिदम का उपयोग करता है कि वे व्यवहार के एक नियतात्मक प्रकृति को प्राप्त कर सके। वास्तविक समय ऑपरेटिंग सिस्टम का मुख्य लक्षय किसी भी घटना event का तुरन्त और उम्मीद के मुताबिक प्रतिक्रिया करना। वास्तविक समय प्रचालन तन्त्र में एवेन्ट ड्रिवन event-driven या समय साझा time-sharing या दोनो का मिलाप हो सकता है। एक एवेन्त ड्रिवन ऑपरेटिंग सिस्टम घटनाओ को उनकि प्रथमिकतओ या बाह्य घटनाओ के आधापर करता है जबकि समय साक्षा ऑपरेटिंग सिस्टम घटनाओ को एक निशचित आबन्टित समय में पुरा करने कि कोशिश करता है, अगर कोई घटना एक निशचित समय में पुरा नहीं हो पता है तो ऑपरेटिंग सिस्टम दुसरे घटन को करता है और पहली घटना का देरी का कारण खोजता है, इस अवस्था को समय सीमा कि समप्ति deadline overrun कहते है।

बहुकार्यिक एवम्^ एकलकार्यिक प्रचालन तन्त्र multitasking and single tasking: जब कोई प्रचालन तन्त्र operating system एक समय में एक ही प्रोग्राम को चलाने की अनुमती देता है, उसे एकलकार्यिक प्रचालन तन्त्र कहते है। और जब प्रचालन तन्त्र एक से ज्यादा प्रोग्राम को चलाने की अनुमती देता है तो उसे बहुकार्यिक प्रचालन तन्त्र कहते है। बहुकार्यिक प्रचालन तन्त्र मुख्यत: दो प्रकार के होते है सहकारी co-operative और रिक्तीपुर्व pre-emptive.

सनलग्न ऑपरेटिंग सिस्टम: जब कोई ऑपरेटिंग सिस्टम किसी एक छोटे यन्त्र के लिये छोटे स्तर पर काम कर ता है तो उसे सनलग्न ऑपरेटिंग सिस्टम embedded operating system कहते है। ये सनलग्न ऑपरेटिंग सिस्टम घडी, वशिङग् मशिन तथा अन्य घरेलु सामानो में होते है॥

                                     

1.2. प्रकार काम करने के आधापर प्रकार

  • ग्राफिकल यूजर इंटरफेस: इस में उपयोगकर्ता कम्प्यूटर से चित्रो के द्वारा सूचना का आदान प्रदान करता है। उदाहरण: विन्डोज़, लाईन्कस
  • कैरेक्टर यूजर इंटरफेस: इस में उपयोगकर्ता सिस्टम के साथ कैरेक्टर के द्वारा सूचना देता है। उदाहरण: डॉस,यूनिक्स
                                               

लैन मैनेजर

लैन मैनेजर अर्थात लैन प्रबंधक एक नेटवर्क ऑपरेटिंग सिस्टम था जो कई विक्रेताओं के माध्यम से उपलब्ध था और Microsoft द्वारा 3Com Corporation के सहयोग से विकसित किया गया था। इसे 3Com के 3 + शेयर नेटवर्क सर्वर सॉफ्टवेयर के उत्तराधिकारी के रुप मे डिजाइन किया गया था जो MS-DOS के एक भारी संशोधित संस्करण के साथ चलता था।

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →