पिछला

ⓘ रोट पूजन गुर्जर समाज द्वारा मनाया जाने वाला एक पवित्र त्यौहार हैं, यह त्यौहार सम्पूर्ण मालवा क्षेत्र में प्रत्येक वर्ष भादो माह की पूर्णिमा को बड़े हर्ष से मनाय ..

                                     

ⓘ रोट पूजन

रोट पूजन गुर्जर समाज द्वारा मनाया जाने वाला एक पवित्र त्यौहार हैं, यह त्यौहार सम्पूर्ण मालवा क्षेत्र में प्रत्येक वर्ष भादो माह की पूर्णिमा को बड़े हर्ष से मनाया जाता है । यह त्यौहार कई सैंकड़ों वर्षों से मनाया जा रहा हैं, इसे गुर्जर समाज के आराध्य भगवान श्री देवनारायण की याद में मनाया जाता हैं । इस त्यौहापर समाज के लोग विभिन्न नए कार्य करने को प्राथमिकता देते है ।

पृष्ठ निर्माता - विष्णु जगदीश गुर्जर

                                     
  • स थ प त कर इसक ब द व ध - व ध न स ग ध - प ष प द स भगव न स र य क प जन कर प जन क ब द व रतकथ स न व रतकथ स नन क ब द आरत कर तत पश च त स र य
  • क लद वत क भ ग लग त ह इनक भ ग म व श षत ह क इस द वत क र ट प रस द क ल ए बन र ट द र ट य क आपस म म ल कर बन य ज त ह म न यत ह क जब
  • आवश यक त ह त ह त चक क भ गण श ह चक क स न क लकर र ट बन न क ल य तव च मट और र ट बन न व ल क आवश यक त ह त ह त यह सभ गण श ह ख न
  • करत ह व रत और प जन क व ध बत कर र न क बहन अपन घर ल ट आ ई र न और द स द न न न श चय क य क व हस पत द व भगव न क प जन जर र कर ग स त
  • श स त र म ग य क प जन य बत य गय ह इस ल ए हम र म त ए बहन र ट बन त ह त सबस पहल र ट ग य क क ह त ह ग य क द ध अम त त ल य ह त ह भगवत प र ण
  • त न क सम व श क य गय प ज आर य ल ग भजन करत थ - - प जन नह परन त द व - द वत ओ क आग प जन आरम भ ह गय व द म प ज क क ई स क त नह ह प ज
  • बच च ब ट क ल य ल हड क व श ष महत व ह त ह इसक स थ प रम पर क मक क क र ट और सरस क स ग क आनन द भ उठ य ज त ह उत तर प रद श म यह म ख य र प स
  • ह वर तम न म ल ग स म न ट क उपय ग करन लग गए ह अध कतर घर म र त क र ट तथ द न म भ त च वल ख न क प रचलन ह लगभग हर मह न क ई न क ई त य ह र
  • और मन ज क म र लक ष म क त श त र म क दलकर क जनम नव बर क लक ष म प जन क द न ह आ थ अपन जन म क द न क वजह स उनक न म लक ष म रख गय ज द व
  • पर वत पश - पक ष य और क ट - पत ग क ह नह र ग और उनक उपच र तक क भ प जन क य ज त ह इस द न स नय स वत सर श र ह त ह अत इस त थ क नवस वत सर
  • म र त भ ह यह हर स ल व श ख प र ण म क एक उत सव मन य ज त ह ज स र ट मह त सव कहत ह और यह म ल भ लगत ह ग र ग रक ष न थ ज क एक स थ न
                                     
  • ह त ह नह य ह त ह त वह बह त ह द र बल व र ग ह त ह उसक र ज - र ट क ज ग ड भ बड म श क ल स ह प त ह धन ढय घर म प द ह न क ब वज द
  • द ख त ह य पर व म ख य र प स ॠष य द व र ल ख गई ऋग व द म स र य प जन उष प जन और आर य पर पर क अन स र ब ह र म यह पर व मन य ज त ह ब ह र म
  • स त ब रबल द स न ईश वर य प र रण प कर उन प रत म ओ क ख ज औ र उनक न यम त प जन आर भ ह आ यह स थ न आज ज नक क ड क न म स ज न ज त ह प र च न कल म स त मढ
  • स वन म ह क बड त ज और ब तम र म ल व श व प रस द ध ह ज धप र म गणग र प जन क भ व श ष महत व ह और इस उत सव पर प र न शहर म गणग र क झ क य भ
  • ब ई क थ त न ब ट म व न य उनक द ल क सर व ध क कर ब थ व भजन - प जन क समर प त रहत म क स स क र क प रभ व. भ त क स ख - स व ध ओ क प रत
  • सकत ह क थ ल क प ज य क र स ट पर क द र त ह ज सम ग रज घर स ख त ह क र ट और शर ब य श मस ह क शर र और रक त म अल क क र प स र प तर त ह ग रज घर
  • ईस टर, य न न Πάσχα ईस ई प जन - वर ष म सबस महत वप र ण व र ष क ध र म क पर व ह ईस ई ध र म क ग रन थ क अन स र, स ल पर लटक ए ज न क त सर द न य श मर
  • मन स ह प रश न कर ग त न श च त ह उत तर म ल ग मन क एक ग र कर भजन प जन म मन लग न स एव जप द व र इच छ त फ ल प र प त करन क उप य ह ज तक क
  • म नहटन क अध ग रहण क य ज स अक सर 24 ड लर क समत ल य म न ज त ह यद यप र ट और अन य म ल क क मत क त लन करन पर व स तव म यह र श वर तम न म द र
  • स त ब रबल द स न ईश वर य प र रण प कर उन प रत म ओ क ख ज औ र उनक न यम त प जन आर भ ह आ यह स थ न आज ज नक क ड क न म स ज न ज त ह प र च न कल म स त मढ
  • र ह पवर त वन य व वन पम पत य क व व धत स पर प र ण सत र ल ग द वत क प जन स मग र क महक स महकत व त वरण प र क त क श त व स न दर स थ न पर कभ कभ

शब्दकोश

अनुवाद