ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 121


                                               

ऐनी स्टीवेनसन

वह एक प्रतिबिन्तित कवयित्री हैं। उनकी कविताएँ प्रशनों से भरी होती है, जो व्यक्ति को सोचने पर मजबोकर देती है। उनकी कविताओं ने बहुत से पुरस्कार जीते है। वह उन कवयित्रियों में से थी जिनकी कविताएँ दिलों पर छाप छोड़ देती हैं। उनहोंने चीजों के किनारों ...

                                               

कन्हैयालाल नन्दन

डाक्टर कन्हैयालाल नंदन हिन्दी के वरिष्ठ पत्रकार, साहित्यकार, मंचीय कवि और गीतकार थे। पराग, सारिका और दिनमान जैसी पत्रिकाओं में बतौर संपादक अपनी छाप छोड़ने वाले नंदन ने कई किताबें भी लिखीं। कन्हैयालाल नंदन को भारत सरकार के पद्मश्री पुरस्कार के अला ...

                                               

एंड्रियास कपलान

एंड्रियास कपलान ईएससीपी बिजनेस स्कूल में प्रोफेसर, डीन और रेक्टर हैं। वह सोशल मीडिया और कृत्रिम बुद्धिमत्ता के क्षेत्र में विशेषज्ञ हैं। गूगल स्कॉलर के 24 000 उद्धरणों के साथ, प्रोफेसर कपलान को दुनिया के शीर्ष 50 व्यापाऔर प्रबंधन लेखकों में गिना ...

                                               

कपिला वात्स्यायन

कपिला वात्स्यायन भारतीय कला की प्रमुख विद्वान हैं। सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन अज्ञेय उनके पति थे। वह इन्दिरा कलाकेन्द्र तथा सांस्कृतिक स्रोत एवं प्रशिक्षण केन्द्र CCRT की प्रथम अध्यक्ष थीं। उनका जन्म मंगलोर कर्नाटक में 3 अप्रैल, 1903 को हुआ ...

                                               

कमलानाथ

कमलानाथ शर्मा जलविज्ञान, सिंचाई तथा जल-निकास, एवं जल-विद्युत अभियांत्रिकी के अन्तरराष्ट्रीय विशेषज्ञ, वैदिक ग्रंथों में जलविज्ञान, पर्यावरण आदि विषयों के लेखक, साहित्यकार, तथा हिंदी के जानेमाने व्यंग्य लेखक और कहानीकार हैं। जलविज्ञान, जल-विद्युत ...

                                               

अभय कात्यायन

एक बहुभाषीलेखक हैं, जो चिकित्सा, ज्योतिष, भाषा शास्त्और धर्मशास्त्पर लेखन करते हैं। अभय कात्यायन का पूरा नाम महर्षि अभय कात्यायन है। यह नाम लेखन हेतु प्रयुक्त करते हैं। इनका वास्तविक नाम साहब दास गौड़ है। प्रारंभिक जीवन अभय कात्यायन का जन्म वर्ष ...

                                               

काशीनाथ त्र्यंबक तेलंग

19वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में जिन विभूतियों ने देशाभिमान से प्रेरित होकर बंबई प्रांत में सार्वजनिक आंदोलनों को उत्साह से प्रारंभ कर जनजागरण में योग दिया उनमें श्री तेलंग भी एक थे। इनमें स्वाभाविक प्रतिभा, स्वाध्यायशीलता, उत्साहसंपन्नता और लगन थी ...

                                               

काशीनाथ सिंह

काशीनाथ सिंह हिन्दी साहित्य की साठोत्तरी पीढ़ी के प्रमुख कहानीकार, उपन्यासकार एवं संस्मरण-लेखक हैं। काशीनाथ सिंह ने लंबे समय तक काशी हिंदू विश्वविद्यालय में हिन्दी साहित्य के प्रोफेसर के रूप में अध्यापन कार्य किया। सन् 2011 में उन्हें रेहन पर रग् ...

                                               

कुमुद अधिकारी

                                               

फिलिप कोट्लर

फिलिप कॉट्लर एक प्रख्यात अमेरिकी मार्केटिंग लेखक, सलाहकाऔर प्रोफेसर हैं। वे मार्केटिंग पर 55 से अधिक विपणन पुस्तकों के लेखक है।

                                               

अशोक कौशिक

                                               

क्रिस्टोफ़र पाओलिनी

क्रिस्टोफ़र पाओलिनी एक अमेरिकी लेखक ही. वह इन्हेरिटेंस साइकल के लेखक के रूप में जाने जाते है जिसमें एरागोन, एल्डेस्ट, ब्रिसिंगर और इन्हेरिटेंस पुस्तकें शामिल है। वे पैराडाइस वैली, मोंटाना में रहते है जहां उन्होंने अपनी पहली पुस्तक लिखी थी।

                                               

खलील उर रहमान आजमी

                                               

गिरीश कर्नाड

गिरीश कार्नाड भारत के जाने माने समकालीन लेखक, अभिनेता, फ़िल्म निर्देशक और नाटककार थे। कन्नड़ और अंग्रेजी भाषा दोनों में इनकी लेखनी समानाधिकार से चलती थी। 1998 में ज्ञानपीठ सहित पद्मश्री व पद्मभूषण जैसे कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों के विजेता कर्नाड द् ...

                                               

गिरीश पंकज

गिरीश पंकज हिन्दी के एक व्यंग्यकार हैं। इनके दस व्यंग्य संग्रह, पाँच उपन्यास समेत विभिन्न विधाओं में चालीस पुस्तकें प्रकाशित हैं। इन्हें व्यंग्य लेखन के लिए "अट्टहास सम्मान", "श्री लाल शुक्ल व्यंग्य सम्मान", "लीलारनी सम्मान" समेत अनेक सम्मान, पुर ...

                                               

गुणाकर मुले

महाराष्ट्र के अमरावती जिले के सिंधु बुजुर्ग गाँव में ३ जनवरी १९३५ को जन्में मराठी मूल के होने के बावजूद उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से गणित में एम.ए. किया और लेखन के लिए हिंदी व अंग्रेजी भाषाओं को माध्यम बनाया। वर्षों दार्जीलिंग स्थित राहुल स ...

                                               

गोविंद बिहारी लाल

गोविंद बिहारी लाल को साहित्य एवं शिक्षा क्षेत्र में भारत सरकार द्वारा सन् १९६९ में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। ये संयुक्त राज्य अमेरिका से हैं। १९३७ में वे प्रतिष्ठित पुलित्ज़र पुरस्कार भी जीत चुके हैं। यह पुरस्कार प्राप्त करने वाले वे प्र ...

                                               

अमर गोस्वामी

अमर गोस्वामी हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार तथा उपन्यासकार थे। वे मनोरमा और गंगा जैसी देश की प्रतिष्ठित पत्रिकाओं से लंबे समय तक जुड़े रहे थे। अमर गोस्वामी साहत्यिक संस्था वैचारिकी के संस्थापक थे। उन्होंने कई साहित्यिक पत्रिकाओं का संपादन भी किया।

                                               

ग्रेगोरी डेविड रॉबर्टस

ग्रेगोरी डेविड रॉबर्टस, एक डाकू, पूर्व हेरोइन के आदि, अपराधी, हथियारो के स्मगलर और लोकप्रिय उपन्यास शांताराम के लेखक है।

                                               

चन्द्रशेखर धर मिश्र

पण्डित चन्द्रशेखर धर मिश्र आधुनिक हिंदी साहित्य में भारतेन्दु युग के अल्पज्ञात कवियों में से एक हैं। खड़ी बोली हिन्दी-कविता के बिकास में अपने एटिहासिक योगदान के लिए ये आचार्य रामचन्द्र शुक्ल द्वारा प्रशंसित हैं। आचार्य रामचन्द्र शुक्ल के अनुसार च ...

                                               

आंतोन चेखव

अन्तोन पाव्लाविच चेख़व रूसी कथाकाऔर नाटककार थे। अपने छोटे से साहित्यिक जीवन में उन्होंने रूसी भाषा को चार कालजयी नाटक दिए जबकि उनकी कहानियाँ विश्व के समीक्षकों और आलोचकों में बहुत सम्मान के साथ सराही जाती हैं। चेखव अपने साहित्यिक जीवन के दिनों मे ...

                                               

जगदम्बा प्रसाद दीक्षित

                                               

जगमोहन सिंह राजपूत

जगमोहन सिंह राजपूत भारत के एक प्रमुख शिक्षा शास्त्री हैं। राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के निदेशक रह चुके राजपूत कई अन्य संस्थाओं में महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत रह चुके हैं। इसके अतिरिक्त वे यूनेस्को सहित कई अन्तर्राष्ट्रीय संस्था ...

                                               

अली सरदार जाफरी

‘नई दुनिया को सलाम’ 1947, ‘पत्थर की दीवार’ 1953, ‘एशिया जाग उठा’ 1950, ‘एक ख़्वाब और 1965 ‘परवाज़’ 1944, ‘ख़ून की लकीर’ 1949, ‘जम्हूर’ 1946, पैराहने शरर 1966, ‘लहु पुकारता है’ 1978, मेरा सफ़र 1999 ‘अम्मन का सितारा’ 1950,

                                               

जीत आपकी

                                               

जॉन मिल्टन

जॉन मिल्टन पैराडाइज लॉस्ट नामक अमर महाकाव्य के रचयिता जॉन मिल्टन अंग्रेजी के सार्वकालिक महान् कवियों में परिगणित हैं। कलाप्रेमी पिता की संतान होने से आरंभ से ही सुसंस्कृत मिल्टन ने उच्च शिक्षा भी प्राप्त की। इसके साथ ही तीव्र अध्यवसाय की स्वाभावि ...

                                               

जॉर्ज बुकनैन

उनकी शिक्षा डंबार्टन स्कूल तथा पैरिस स्कूल में हुई। सेंट ऐंडूज विश्वविद्यालय से बी.ए. तथा पेरिस से एम.ए.। विद्यार्थीकाल से लैटिन कविता लिखना आरंभ किया। वे पैरिस आए और वहाँ तीन वर्ष तक लैटिन शिक्षक का कार्य करते रहे। उनके चार दु:खांत नाटक मिडिया, ...

                                               

अशोक झिंगन

                                               

टॉम वोल्फ

थॉमस केनेरली वोल्फ जुनियर टॉम वोल्फ के नाम से चर्चित, एक अमेरिकी लेखक एवं पत्रकार थे। वर्ष 1960 और 1970 के दशक में विकसित न्यू जर्नलिज्म, समाचार लेखन और पत्रकारिता की एक शैली के साथ व्यापक रूप से जाने जाते हैं, जिसमें साहित्यिक तकनीक शामिल थी। उन ...

                                               

केशव सीताराम ठाकरे

प्रबोधनकार केशव सीताराम ठाकरे एक सत्यशोधक आंदोलन के चोटी के समाज सुधारक और प्रभावी लेखक थे। शिव सेना के नेता बालासाहेब ठाकरे उनके पुत्र थे. उनका कर्तृत्व और प्रतिभा अनेकानेक रंगों में पुष्पित-पल्लवित हुई। विचारवंत, नेता, लेखक, पत्रकार, संपादक, प् ...

                                               

डी॰वी॰ गुंडप्प

डी वी गुण्डप्प या डीवीजी कन्नड साहित्यकार एवं दार्शनिक थे। गुंडप्प को अपने कार्यक्षेत्र कर्नाटक से बाहर अधिक प्रसिद्धि नहीं मिल सकी। यहां उन्होंने राजनीतिक सुधाऔर सामाजिक जागृति के लिए 50 वर्षों तक काम किया। उन्होंने इस कार्य को अपने लेखन के द्वा ...

                                               

डॉ नमिता राकेश

                                               

डॉ रमा द्विवेदी

                                               

डॉ॰ सुभाष राय

डॉ सुभाष राय एक हिन्दी साहित्यकाऔर पत्रकार हैं। इनका जन्म जनवरी 1957 में उत्तर प्रदेश में स्थित मऊ जिला के गांव बड़ागांव में हुआ। शिक्षा काशी, प्रयाग और आगरा में हुई। उन्होंने आगरा विश्वविद्यालय के ख्यातिप्राप्त संस्थान के. एम. आई. से हिंदी साहित ...

                                               

तिरुमलाम्बा

नया कन्नडा के प्रथम लेखकी, पत्रिका संपादकी, प्रकाशकी, मुद्रकी नाम से जाने माने गए तिरुमलाम्बा महिलायें का उद्दार के लिए रात दिन प्रयास किया. वे २५ मार्च १८८७ वर्ष के नंजनगुड में पैदा हुआ थे ।उनके पिता वेंकट कृष्ण अय्यंगार वकील थे. उनका माँ का नाम ...

                                               

तेजेंद्र शर्मा

तेजेंद्र शर्मा ब्रिटेन में बसे भारतीय मूल के हिंदी कवि लेखक एवं नाटककार है। इनका जन्म 21 अक्टूबर 1952 में पंजाब के जगरांव शहर में हुआ। तेजेन्द्र शर्मा की स्कूली पढ़ाई दिल्ली के अंधा मुग़ल क्षेत्र के सरकारी स्कूल में हुई। दिल्ली विश्वविद्यालय से अ ...

                                               

त्रिलोकी नाथ मदन

त्रिलोकी नाथ मदन कश्मीर के विख्यात विद्वान हैं। वह समाज शास्त्री मानवविज्ञानी हैं। इनका Ph.D. आस्टेलिया से है। यह कई वर्ष दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर थे। इनका सबसे विख्यात ग्रन्थ Family and Kinship among the Pandits of Rural Kashmir 1966, 1 ...

                                               

दत्तो वामन पोतदार

दत्तो वामन पोतदार) साहित्यकार-समाजसेवी थे। हिंदी को महाराष्ट्र की दूसरी सबसे बड़ी भाषा बनाने का श्रेय उनको ही है। उन्हें महाराष्ट्र का साहित्यिक भीष्म कहा जाता हैं। इस कार्य के लिए उन्होंने आजीवन अविवाहित रहकर सेवा करने का दृढ़ निर्णय लिया। उन्हे ...

                                               

दुआर्ते बरबोसा

दुआर्ते बरबोसा यूरोप का एक प्रसिद्ध लेखक था जिसने दक्षिण भारत में व्यापाऔर समाज का एक विस्तृत विवरण लिखा। दुआर्ते का जन्म 1480 ई. में हुआ तथा। उसकी मृत्यु 1521 में हुई थी। दुआर्ते के लिखने के कारण 1600 ई. के बाद भारत में आने वाले डच,अंग्रेज और फ् ...

                                               

अश्विनी कुमार दुबे

                                               

आशापूर्णा देवी

आशापूर्णा देवी भारत से बांग्ला भाषा की कवयित्री और उपन्यासकार थीं, जिन्होंने 13 वर्ष की अवस्था से लेखन प्रारम्भ किया और आजीवन साहित्य रचना से जुड़ीं रहीं। गृहस्थ जीवन के सारे दायित्व को निभाते हुए उन्होंने लगभग दो सौ कृतियाँ लिखीं, जिनमें से अनेक ...

                                               

नरेश अग्रवाल

डॉ नरेश अग्रवाल एक भारतीय कवि एवं लेखक हैं। वे जमशेदपुर, झारखण्ड से हैं, लेकिन झुनझुनू, राजस्थान इनका पैत्रिक स्थान हैं। वे द्वैमासिक पत्रिका कुरजाँ के सह-सम्पादक और ‘मरुधर’ रंगीन द्विमासिक साहित्यिक पत्रिका के सम्पादक हैं।

                                               

निलीना अब्राहम

निलीना अब्राहम भारत के केरल के लेखक और अनुवादक हैं। इनका जन्म वे बांग्लादेश हुआ था। इन्होंने बंगाली भाषा, राजनीतिक विज्ञान और इतिहास में मास्टर की डिग्री हासिल करने के बाद, वे केरल के एर्नाकुलम क्षेत्र में वापस आने के बाद, महाराजा कॉलेज में बंगाल ...

                                               

निष्ठानन्द बज्राचार्य

निष्ठानन्द बज्राचार्य नेपालभाषा पुनर्जागरण काल के एक महारथी थे। इन को नेपालभाषा के पुनर्जागरण के चार स्तम्भ मै एक भी कहा जाता है। नेपालभाषा मै सबसे पहले थासा अक्षर मै पुस्तक छपानेका श्रेय इन को जाता है। इन्हौंने ने.सं. १०२९मै प्रज्ञापारमिता पुस्त ...

                                               

नीलेश मिश्रा

नीलेश मिसरा एक भारतीय पत्रकार,लेखक,पटकथा लेखक,बॉलीवुड गीतकार तथा फोटोग्राफर है यह मुख्य रूप से अपने रेडियो कार्यक्रम "यादों का इडियट बॉक्स विद नीलेश मिसरा" जो बिग एफ एम पर आता था इनके अलावा ये भारतीय क्षेत्रीय समाचार पत्र गांव कनेक्शन के सह-संस्थ ...

                                               

पंकज बिष्ट

पंकज बिष्ट हिन्दी साहित्य के प्रतिष्ठित पत्रकार, कहानीकार, उपन्यासकार व समालोचक है। वर्तमान में वे दिल्ली से प्रकाशित समयांतर नामक हिन्दी साहित्य की मासिक पत्रिका का सम्पादन व संचालन कर रहे हैं।

                                               

पंडित बुद्धदेव दासगुप्ता

पद्मभूषण बुद्धदेव दासगुप्ता, एक भारतीय शास्त्रीय संगीतकाऔर सरोदवादक थे। उन्होंने पंडित राधिका मोहन माइत्रा से सरोद वादन सीखा था। भारत सरकार द्वारा उन्हें वर्ष 2012 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। इसके पूर्व उन्हें वर्ष 2015 में संगीत महासम ...

                                               

पद्माकर विष्णु वर्तक

डॉ॰ पद्माकर विष्णु वर्तक पेशे से चिकित्सक रहे हैं। आध्यात्मिक विचारधारा के डॉ॰ वर्तक मूलतः मराठी भाषा के अनुसंधाता लेखक के रूप में प्रसिद्ध हैं।

                                               

अलका पाठक

                                               

पीयूष गोयल (लेखक)

डॉ॰ पीयूष गोयल एक भारतीय लेखक, साहित्यकार, विश्व रिकॉर्ड होल्डर, एवं कलाकार हैं। वें लिम्का बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स और एवेरेस्ट वर्ल्डस रिकार्ड्स में नाम दर्ज करा चुके है। "पीयूषवाणी" नामक पुस्तक के रचयिता हैं। इन्हें वर्ल्ड र ...

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →